भारत की पाक को सलाह, कहा आरोप लगाने के बजाय आतंकवाद की गंदगी की करे सफाई

  • भारत की पाक को सलाह, कहा आरोप लगाने के बजाय आतंकवाद की गंदगी की करे सफाई
You Are HereNcr
Thursday, November 24, 2016-7:44 PM

नई दिल्ली: भारत ने पाकिस्तान को सलाह दी है कि वह अपनी ऊर्जा निराधार आरोप लगाने के बजाय आतंकवाद के सफाये पर लगाये तो दोनों देशों के संबंध सुधरेंगे और बातचीत का रास्ता खुलेगा। इस बीच भारत ने कल देर शाम पाकिस्तान को नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम समझौते के उल्लंघन को लेकर उसके उप उच्चायुक्त को तलब करके उसे इस माह को चौथा विरोधपत्र (डिमार्श) सौंपा है।  

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने आज यहां नियमित ब्रीफिंग में पाकिस्तान द्वारा कश्मीर के मुद्दे पर एक अंतर्राष्ट्रीय स्तर के एक समूह का गठन किये जाने के बारे में एक सवाल पर कहा कि कश्मीर के मुद्दे को अंतर्राष्ट्रीय मंच पर लाने के पाकिस्तान के प्रयासों को कोई सफलता नहीं मिली है। पाकिस्तान को सलाह दी जाती है कि वह अपनी ऊर्जा को निराधार आरोप लगाने के बजाय आतंकवाद की गंदगी की सफाई में लगाये। अफगानिस्तान के पुनर्निर्माण में सहयोग के मुद्दे पर अमृतसर में आयोजित हार्ट आफ एशिया सम्मेलन में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के विदेश मामले के सलाहकार सरताज अजीज के भाग लेने और उनके बयान के बारे में पूछे गये एक सवाल के जवाब में स्वरूप ने कहा कि उन्हें सलाह दी जाती है कि वे पाकिस्तानियों को इकठ्ठा करने के बजाये अपनी सरकार की आतंकवाद को प्रायोजित करने की नीति को खत्म करायें।   

पाकिस्तानी मीडिया में भारत द्वारा उसके हवाई क्षेत्र से पाकिस्तान के सिविल विमानों के उडऩे पर प्रतिबंध लगाये जाने संबंधी रिपोर्ट पर पूछे जाने पर स्वरूप ने इसे सिरे से खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि 1991 के समझौते के अनुलग्नक ए के अनुसार सैन्य विमान में कार्गो के प्रकार और यात्रियों की सूचना दी जाती है। पर ऐसे कई मौकों पर पाकिस्तान की ओर से आवश्यक सूचनाओं के बिना ही पाकिस्तान की ओर से ऐसे कई अनुरोध प्राप्त किये हैं। नौ नवंबर को पाकिस्तानी उप उच्चायुक्त की विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव (पीएआई) से मुलाकात में यह विषय उठाया गया था लेकिन उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया है।  


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You