Subscribe Now!

माकन बोले- EC का फैसला पहले आता तो टूट जाती AAP

  • माकन बोले- EC का फैसला पहले आता तो टूट जाती AAP
You Are HereNational
Sunday, January 21, 2018-5:24 PM

नई दिल्ली: कांग्रेस ने लाभ के पद मामले में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और आम आदमी पार्टी (आम) के बीच‘डील’होने का आरोप लगाते हुए कहा कि यदि चुनाव आयोग ने दिल्ली में राज्यसभा चुनाव की अधिसूचना जारी होने के बाद ही इसका फैसला दे दिया होता तो अंदरूनी फूट के कारण ‘आप’ टूट गयी होती। 

आयोग ने ‘आप’ को पहुंचाया फायदा 
कांग्रेस प्रवक्ता एवं दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय माकन ने पार्टी मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेंस के  दौरान इस मामले को लेकर चुनाव आयोग को भी लपेटे में लिया। उन्होंने आरोप लगाया कि आयोग ने ‘आप’को फायदा पहुंचाने के लिए उसके 20 विधायकों के लाभ के पद के मामले में फैसला देने में जान-बूझकर देर की। यदि इस मामले में फंसे उसके 20 विधायक उसी समय अयोग्य करार दे दिये गये होते तो वे राज्यसभा में चुनाव में वोट नहीं दे सकते थे। आप के अंदर जिस कदर फूट और असंतोष है, ऐसा होने पर पार्टी टूट गयी होती। 

भाजपा ने की आप की मदद
माकन ने सवाल किया कि 22 दिसंबर को राज्यसभा की तीन सीटों के चुनाव की घोषणा हो चुकी थी लेकिन आयोग ने आप के तीनों प्रत्याशियों के निर्विरोध चुने के बाद लाभ के पद मामले में अपनी सिफारिश राष्ट्रपति को भेजी। उन्होंने आरोप लगाया कि 19 जनवरी तक फैसला लटकाकर भाजपा और आयोग ने मिलकर ‘आप’ की मदद की है। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You