सुबह फैसला, शाम को अमल, मंत्रियों की गाड़ियों से लाल बत्ती गायब

  • सुबह फैसला, शाम को अमल, मंत्रियों की गाड़ियों से लाल बत्ती गायब
You Are HereNational
Wednesday, April 19, 2017-8:03 PM

नई दिल्ली: केंद्र सरकार द्वारा वीवीआईपी कल्चर खत्म करने के लिए लाल और नीली बत्ती पर 1 मई से लगाई गई रोक का असर अभी से दिखने लगा है। बुधवार को कैबिनेट के फैसले के ठीक बाद एक के बाद एक केंद्रीय मंत्रियों ने अपनी गाडिय़ों से लाल बत्ती हटानी शुरू कर दी। बिहार के नवादा से सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को जैसे ही इस फैसले के बारे में जानकारी मिली, उन्होंने अपनी गाड़ी से खुद ही लाल बत्ती हटा दी।


बिहार के शेखपुरा के बरबीघा दौरे पर गए सूक्ष्म, लघु तथा मध्यम उद्यम मंत्री सिंह ने कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल का यह फैसला स्वागत योग्य है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जनता और नेताओं में कोई फर्क नहीं होना चाहिए। लाल और पीली बत्ती को खत्म किया जाना चाहिए। कैबिनेट के इस निर्णय के बाद केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री मंत्री महेश शर्मा और केंद्रीय खेल मंत्री विजय गोयल ने भी अपनी गाडिय़ों से लाल बत्ती हटा ली है।


केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को यह फैसला लिया है। 1 मई को मजदूर दिवस के दिन से यह फैसला लागू होगा। यह रोक केंद्रीय मंत्रियों और अफसरों पर लागू होगी। सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने साफ कर दिया है कि लालबत्ती की इजाजत पीएम को भी नहीं होगी। 

 

 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You