जब UP विधानसभा में चला हंसी-मजाक का दौर

  • जब UP विधानसभा में चला हंसी-मजाक का दौर
You Are HereUttar Pradesh
Wednesday, February 26, 2014-6:06 PM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा में आज हंसी-मजाक का दौर चला जब संसदीय कार्यमंत्री आजम खां ने सदन से विपक्ष के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य का नाम गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्डस में शामिल करने की मजाहिया लहजे में सिफारिश की बात कही। शून्यकाल के दौरान आलू किसानों की समस्याओं पर चर्चा के दौरान बहुजन समाज पार्टी एवं विपक्ष के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि चूंकि आलू जमीन के अंदर पैदा होता है इसलिए इसकी फसल को बारिश तथा ओलावृष्टि से होने वाले नुकसान का आकलन करने के लिए एक विशेषज्ञ समिति गठित की जानी चाहिए।

मौर्य ने कहा कि आलू किसानों को होने वाले नुकसान का सही आकलन करने के लिए एक तकनीकी समिति गठित होनी चाहिए। आलू जमीन के नीचे पैदा होता है। नुकसान का आकलन करने वाले जिलाधिकारी और अन्य राजस्व अधिकारी इस काम करने के लिए पूरी तरह प्रशिक्षित नहीं हैं। इस बीच, संसदीय कार्य मंत्री आजम खां ने कहा कि वह यह बताने के लिए मौर्य का शुक्रिया अदा करना चाहते हैं कि आलू जमीन के अंदर पैदा होता है। उन्होंने मजाकिया लहजे में कहा कि हमें मौर्य साहब का नाम गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्डस में शामिल कराने की सिफारिश करनी चाहिए। खां की इस टिप्पणी से सदन में बैठे अनेक सदस्य अपनी हंसी नहीं रोक सके। इसी दौरान भाजपा विधानमंडल दल के नेता हुकुम सिंह ने कहा कि अच्छा हुआ जो मौर्य जी ने हमें बता दिया कि आलू जमीन के अंदर पैदा होता है, वरना हम तो उसे आम के पेड़ पर ढूंढते। सिंह की इस बात पर पूरा सदन ठहाकों से गूंज उठा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You