<

तिहाड़ में महिलाएं पढ़ेंगी अ, आ, इ ई...

  • तिहाड़ में महिलाएं पढ़ेंगी अ, आ, इ ई...
You Are HereNational
Thursday, March 13, 2014-12:26 AM

नई दिल्ली (कार्तिकेय हरबोला): तिहाड़ जेल में निरक्षर महिला कैदियों जेल प्रशासन ने साक्षर बनाएगा। इसके लिए अन्य साक्षर कैदियों का सहयोग लिया जाएगा। जेल प्रशासन का यह फैसला निरक्षर महिला कैदियों को सजा समाप्त होने के बाद जेल से बाहर निकलने पर रोजगार उपलब्ध कराने में बेहद कामगार साबित होगा।


साक्षर कैदियों में महिलाएं सबसे पीछे
जेल में बंद कैदियों में से करीब 82 प्रतिशत कैदी साक्षर हैं, लेकिन इनमें पुरुषों की संख्या अधिक है। जबकि साक्षरता के मामले में जेल में बंद महिलाओं की संख्या काफी कम है। ऐसे में तिहाड़ प्रशासन ने महिलाओं की साक्षरता प्रतिशत को बढ़ाने का प्रयास तेज कर दिए हैं, जिससे उनमें निरक्षरता को कम किया जा सके।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You