कुंबले ने बताई इस खिलाड़ी को टीम में जगह देने की खास वजह

  • कुंबले ने बताई इस खिलाड़ी को टीम में जगह देने की खास वजह
You Are HereCricket
Wednesday, November 16, 2016-8:42 AM

विशाखापत्तनम: भारतीय क्रिकेट टीम के कोच अनिल कुंबले ने कहा है कि इंगलैंड के खिलाफ होने वाले दूसरे टैस्ट मैच के लिए वह अपने स्पिन गेंदबाजों को लेकर ज्यादा चिंतित नहीं है। कुंबले ने मंगलवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि ऐसा नहीं है कि राजकोट टैस्ट में इंगलैंड के स्पिनरों को भारतीय स्पिनरों से अधिक विकेट मिलने से हमारा नुकसान हुआ है। हम अपनी रणनीति के तहत टीम चुनेंगे। पिच को देखकर ही खेलेंगे। हम 20 विकेट लेकर मैच जीतने के लिए खेलते हैं।

राजकोट में हमने कैचिंग में निराश किया
राजकोट में भारतीय फील्डरों के कैच टपकाने के संदर्भ में कोच ने कहा कि हमने कैचिंग में निराश किया। पिछले 3 महीनों में तीनों विभाग में प्रदर्शन अच्छा था लेकिन कैचिंग पर मेहनत करनी होगी। भारत ने राजकोट में 6 कैच टपकाए थे जिसका फायदा उठाकर इंगलैंड ने पहली पारी में 500 से ज्यादा का स्कोर बनाया था। ओपनर लोकेश राहुल की वापसी पर कुंबले ने कहा कि अभी भी दो दिन बाकी हैं। राहुल चयन के लिए उपलब्ध है और हम उन्हें अंतिम एकादश में चाहते हैं। यही वजह है कि उन्हें चुना गया है।

गौतम गंभीर ने किया पहले टैस्ट में निराश 
उल्लेखनीय है कि ओपनर गौतम गंभीर ने पहले टैस्ट में निराश किया था और उनके नाकाम रहने के बाद राहुल को टीम के साथ जोड़ा गया है जिन्होंने रणजी ट्रॉफी मैच में राजस्थान के खिलाफ 76 और 106 रन के रूप में दो शानदार पारियां खेलीं। इंगलैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन की दूसरे टैस्ट में वापसी की संभावना के बारे में कुंबले ने कहा कि फोकस किसी एक व्यक्ति पर नहीं है। उन्होंने कहा कि एंडरसन ने 450 विकेट लिए हैं और उनके पास काफी अनुभव है। वह यहां पहले भी खेल चुके हैं। लेकिन हम इंगलैंड को एक टीम के रूप में देख रहे हैं और हमारा फोकस किसी व्यक्ति विशेष पर नहीं है।

दूसरे टैस्ट में भारतीय गेंदबाज बेहतर प्रदर्शन करेंगे
पूर्व लेग स्पिनर कुंबले मानते हैं कि भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा और अमित मिश्रा विकेट चटकाने में सक्षम है और वह विशाखापत्तनम में दूसरे टैस्ट में ऐसा कर दिखाएंगे। पहला टैस्ट ड्रा रहा था जहां भारत ने अंतिम दिन 6 विकेट गंवाने के बाद मैच ड्रा कराया था। कुंबले को उम्मीद है कि दूसरे टैस्ट में भारतीय गेंदबाज राजकोट के मुकाबलेे बेहतर प्रदर्शन करेंगे। कोच ने टीम के तेज गेंदबाजों उमेश यादव और मोहम्मद शमी की तारीफ करते हुए कहा कि तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन अच्छा रहा था। शमी और उमेश ने बेहतर गेंदबाजी की थी और रिवर्स स्विंग से इंगलैंड के बल्लेबाजों को परेशान किया था। उमेश और शमी ने सिर्फ राजकोट में ही नहीं बल्कि न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में भी अच्छी गेंदबाजी की थी। भुवनेश्वर का प्रदर्शन भी अच्छा रहा था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You