BCCI ने कपिल को ‘लाइफटाइम अचीवमेंट’ पुरस्कार से नवाजा

  • BCCI ने कपिल को ‘लाइफटाइम अचीवमेंट’ पुरस्कार से नवाजा
You Are HereSports
Sunday, January 12, 2014-9:44 AM

मुंबई: पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव को आज बीसीसीआई ने सातवें सालाना पुरस्कार समारोह में सीके नायुडू लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार से सम्मानित किया। आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को पिछले सत्र में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने के लिए पॉली उमरीगर पुरस्कार से नवाजा गया। 2012-13 सत्र में अश्विन ने 43 विकेट चटकाए थे और 263 रन बनाए थे, इसके अलावा उन्होंने 18 वन डे में 24 विकेट और चार टी20 में तीन विकेट हासिल किए थे।

पॉली उमरीगर पुरस्कार में टॉफी और पांच लाख रुपए का चेक दिया जाता है। इससे पहले यह पुरस्कार सचिन तेंदुलकर (2006-07 और 2009-10) ने दो बार जबकि वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, राहुल द्रविड़ और विराट कोहली ने एक बार हासिल किया है। महान आल राउंडर और 1983 विश्व कप विजेता कप्तान कपिल इस तरह सीके नायुडू पुरस्कार प्राप्त करने वाले 21वें भारतीय क्रिकेटर बन गए।

पुरस्कार समारोह का सबसे महत्वपूर्ण क्षण कपिल देव और महेंद्र सिंह धोनी का एक ही तरह से प्रुडेंशियल कप और आईसीसी विश्व कप ट्रॉफी हाथ में लेने वाला क्षण था। धोनी ने उसके बाद आईसीसी विश्व कप ट्रॉफी कपिल को सौंपी जबकि इस अनुभवी क्रिकेटर ने प्रुडेंशियल कप धोनी को दिया। मुंबई के अभिषेक नायर को 2012-13 रणजी ट्रॉफी सत्र में सर्वश्रेष्ठ आलराउंडर के लिए लाला अमरनाथ पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इस पुरस्कार में एक ट्रॉफी और ढाई लाख रुपए का चेक होता है।

मुंबई क्रिकेट संघ को 2012-13 सत्र में सर्वश्रेष्ठ ओवरआल प्रदर्शन के लिए ट्रॉफी मिली। एमसीए का प्रतिनिधित्व करने वाली विभिन्न टीमों ने रणजी ट्रॉफी, अंडर-25 सीके नायुडू ट्राफी, अंडर-16 विजय मर्चेंट टॉफी, महिला अंडर-19 अंतर राज्य टूर्नामेंट जीता और अंडर-19 कूच बिहार ट्रॉफी में उप विजेता रही। रोहित शर्मा को वेस्टइंडीज के खिलाफ हाल में घरेलू टेस्ट श्रृंखला में भारत का सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर होने के लिए दिलीप सरदेसाई पुरस्कार से नवाजा गया। वह कल सुबह न्यूजीलैंड के लिए रवाना होंगे, वह वन डे और टेस्ट दोनों टीमों में शामिल हैं।

उन्हें एक ट्रॉफी और पांच लाख रुपए का चेक मिला। इस कार्यक्रम का सबसे मुख्य पुरस्कार तीन पूर्व खिलाडिय़ों आर जी (बापू) नादकर्णी, फारूख इंजीनियर और दिवंगत एकनाथ सोलकर को भारतीय क्रिकेट में उनके योगदान के लिए सम्मानित किया जाना रहा। पुरस्कार प्राप्त करने के लिए नादकर्णी और इंजीनियर उपस्थित नहीं थे जबकि सोलकर की पत्नी ने यह पुरस्कार प्राप्त किया। उन्हें स्मृति चिन्ह और 15-15 लाख रुपए के चेक से सम्मानित किया गया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You