अब मैदान में नहीं बरसेंगे ज्यादा चौके-छक्के, होने जा रहा है ये बदलाव

  • अब मैदान में नहीं बरसेंगे ज्यादा चौके-छक्के, होने जा रहा है ये बदलाव
You Are HereSports
Friday, May 19, 2017-5:24 PM

नई दिल्ली: क्रिकेट मैदान में खिलाड़ी चौकों-छक्कों की बरसात करके लोगों का मनोरंजन करते हैं। यदि कोई बल्लेबाज मैदान में 5 मिनट तक तेज शॉट ना खेल सके तो क्रिकेट फैंस वोर होने लग पड़ते हैं। टेस्ट, वनडे या फिर टी20 फॉरमेट, यहां गेंदबाज की एक अच्छी गेंद भी हल्की सी बल्ले से लगकर बाउंड्री पर जा गिरती है। लेकिन अब गेंदबाजों के लिए अच्छी खबर आई है, जिससे बैट्समैन के बल्ले पर लगाम लगेगी।

बल्ले में होगा ये बदलाव
ब्रिटेन में बसे एक भारतीय सर्जन ने क्रिकेट के बल्ले की डिजाइन पर शोध किया। इस शोध का लक्ष्य गेंद और बल्ले के बीच संतुलन बनाना है। बल्ले में होने वाला यह बदलाब इस साल एक अक्टूबर से इस्तेमाल में लिया जाएगा। नए नियम के तहत बल्ले के किनारे की मोटाई 40 मिलीमीटर से कम होगी और उसकी कुल गहराई 67 मिमी से ज्यादा नहीं हो सकती। 

गेंद का होगा दबदबा
ब्रिटेन के रहने वाले ऑर्थोपेडिक सर्जन चिनमय गुप्ते लंदन के इम्पीरियल कॉलेज की टीम के साथ इस शोध पर काम कर रहे हैं। गुप्ते ने कहा कि पिछले 30 साल में क्रिकेट में छक्कों की संख्या बढ़ गई है। बल्लों के डिजाइन ही इस तरह के हैं कि गेंद की बजाय बल्ले का दबदबा है। यह नया डिजाइन संतुलन लाएगा।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You