हॉकी इंडिया ने FIH प्रो लीग से हटने के फैसले को सही ठहराया

  • हॉकी इंडिया ने FIH प्रो लीग से हटने के फैसले को सही ठहराया
You Are HereSports
Sunday, July 09, 2017-3:19 PM

नई दिल्ली: अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ की प्रो लीग से हटने के फैसले को उचित ठहराते हुए हॉकी इंडिया ने आज कहा कि इस प्रतियोगिता से आेलंपिक के लिये सीधे क्वालीफिकेशन का मौका नहीं मिलता और महिला टीम के लिये यह किसी भी तरह से फायदेमंद नहीं होता। हाकी इंडिया के अधिकारी ने दावा किया कि यह प्रो लीग 2019 में शुरू होगी, इससे पुरूष और महिला दोनों वर्गों में केवल चार शीर्ष टीमों को ही आेलंपिक क्वालीफायर में भाग लेने का मौका मिलेगा।   

भारतीय पुरूष टीम के पास अच्छा मौका है और महिला टीम अभी विश्व रैंकिंग में 13वें स्थान पर है जिससे उसके पास शीर्ष चार में रहना काफी मुश्किल होता। हाकी इंडिया ने कहा कि प्रो लीग के बजाय दोनों पुरूष और महिला टीमों के पास हाकी विश्व लीग के पहले और दूसरे दौर के जरिये आेलंपिक क्वालीफायर में पहुंचने का बेहतर मौका है जो 2019 में प्रो लीग के रहते हुए भी जारी रहेगा।  

हाकी इंडिया के शीर्ष अधिकारी ने पीटीआई से कहा, ‘‘पहले मैं स्पष्ट कर दूं कि प्रो लीग से 2020 तोक्यो आेलंपिक में शीर्ष चार टीमों को सीधे स्थान नहीं मिलेगा। इससे शीर्ष चार टीमों को आेलंपिक क्वालीफायर में खेलने का मौका मिलेगा।’’ उन्होंने कहा हमारी महिला टीम को शीर्ष चार में क्वालीफाइंग का कोई मौका नहीं मिलता, इसलिये हमने इस प्रतियोगिता से हटने का फैसला किया। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You