ओलिंपिक की टीम में शामिल नहीं किए जाने से खफा थीं रितु रानी

  • ओलिंपिक की टीम में शामिल नहीं किए जाने से खफा थीं रितु रानी
You Are HereHockey
Tuesday, September 27, 2016-10:23 AM

नई दिल्ली: भारत की पूर्व महिला हॉकी कप्तान रितु रानी ने इंटरनैशनल हॉकी से संन्यास ले लिया। वह रियो ओलिंपिक जाने वाली भारतीय टीम में शामिल नहीं किए जाने के बाद काफी नाराज थीं। रितु को रियो ओलिंपिक की टीम से ‘रवैये’ संबंधित कारण का हवाला देते हुए विवादास्पद तरीके से बाहर किया गया था। हालांकि उन्‍हें रविवार से भोपाल में शुरू हुए राष्ट्रीय शिविर के लिए 29 संभावितों में शामिल किया गया था, लेकिन यह 24 वर्षीय मिडफील्डर ओलिंपिक टीम से बाहर किए जाने से अभी तक नाराज है और उन्होंने अपना अंतरराष्ट्रीय करियर खत्म करने का फैसला किया।

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने कहा कि हमें 2-3 दिन पहले रितु रानी का मेल मिला जिसमें उन्होंने बताया कि वह राष्ट्रीय शिविर से नहीं जुड़ सकती क्योंकि वह अंतरराष्ट्रीय हॉकी से संन्यास ले रही हैं। उन्होंने कहा कि यह उनका निजी फैसला है और हॉकी इंडिया उनके फैसले का सम्मान करता है। हॉकी इंडिया खेल और देश को दी गई उनकी सेवाओं के लिए शुक्रिया कहना चाहेगा। रितु से लगातार संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो सका। 


रितु की कप्तानी में ही भारतीय महिला टीम ने 36 साल के अंतराल बाद रियो ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई किया था। उनकी कप्तानी में ही राष्ट्रीय टीम ने 2014 इंचियोन एशियाई खेलों में ब्रॉन्‍ज और 2013 एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी में सिल्‍वर मेडल जीता था। ओलिंपिक टीम से बाहर किए जाने के बाद रितु ने पटियाला के पंजाबी गायक हर्ष शर्मा से 18 अगस्त को शादी कर ली थी।


 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You