IND vs NZ: विराट सेना ने रचा इतिहास, 4 साल में तीसरा क्लीन स्वीप

  • IND vs NZ:   विराट सेना ने रचा इतिहास, 4 साल में तीसरा क्लीन स्वीप
You Are HereTop News
Tuesday, October 11, 2016-5:01 PM

इंदौर: भारतीय टीम के सबसे खतरनाक अस्त्र रविचंद्रन अश्विन (59 रन पर सात विकेट) के एक और घातक प्रदर्शन की बदौलत विराट कोहली की युवा सेना ने होल्कर स्टेडियम में तीसरे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट के चौथे ही दिन मंगलवार को 321 रन से रिकॉर्ड जीत हासिल कर सीरीज में 3-0 क्लीन स्वीप कर ली।  भारत ने 3-0 के क्लीन स्वीप के साथ ही आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक पोजिशन पर अपनी बादशाहत और भी मजबूत कर ली। इस जीत के साथ ही टीम इंडिया ने इतिहास रच दिया है। इंडिया का पिछले चार सालों में टेस्ट सीरीज का ये तीसरा क्लीन स्वीप है। टीम ने अपने ही घर पर 2013 में ऑस्ट्रेलिया को 4-0 से क्लीन स्वीप किया था। उसी साल वेस्टइंडीज को भी टीम ने क्लीप स्वीप किया था।

भारत की टेस्ट इतिहास में दूसरी सबसे बड़ी जीत
भारत की रनों के लिहाज से न्यूजीलैंड के खिलाफ यह सबसे बड़ी जीत और अपने टेस्ट इतिहास में दूसरी सबसे बड़ी जीत है। भारत ने इससे पहले मार्च 1968 में न्यूजीलैंड को ऑकलैंड में 272 रन से हराया था।   इंदौर के होल्कर स्टेडियम में यह पहला टेस्ट था और भारत ने इस मैदान पर अपना अपराजेय रिकॉर्ड बरकरार रखा। भारत ने इससे पहले होल्कर स्टेडियम में सभी चार वनडे जीते थे। भारत ने अपनी दूसरी पारी चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 101) के शानदार शतक के दम पर तीन विकेट पर 216 रन पर घोषित की और न्यूजीलैंड के सामने 475 रन का मुश्किल लक्ष्य रख दिया।  न्यूजीलैंड की टीम एक बार फिर अश्विन के मायाजाल में फंस गई और 44.5 ओवर में 153 रन पर घुटने टेक दिए। पहली पारी में 81 रन पर छह विकेट लेने वाले अश्विन ने दूसरी पारी में भी न्यूजीलैंड का पुङ्क्षलदा बांधते हुये 13.5 ओवर में 59 रन पर सात झटक लिए । 

अश्विन ने लिए इस मैच में कुल 13 विकेट
इस तरह अश्विन ने अपने करियर में छठी बार एक टेस्ट में 10 विकेट हासिल किये। उन्होंने इस मैच में कुल 13 विकेट लिए।  अश्विन ने इस तरह एक पारी और एक टेस्ट में अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर डाला। उन्होंने इससे पहले एक पारी में 66 रन पर सात विकेट और मैच में 85 रन पर 12 विकेट लिए थे। उन्होंने न्यूजीलैंड की दूसरी पारी में 59 रन पर सात विकेट और मैच में 140 रन पर 13 विकेट लिए।   अश्विन इसके साथ ही सीरीज में दो बार 10 विकेट लेने वाले दूसरे भारतीय गेंदबाज बन गये। इससे पहले आफ स्पिनर हरभजन सिंह ने 2000-01 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में दो बार 10 विकेट हासिल किये थे। अश्विन ने इस सीरीज में तीसरी बार पारी में पांच विकेट हासिल किए और कुल 27 विकेट अपने नाम किये।  30 वर्षीय अश्विन को लेट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा का भरपूर साथ मिला जिन्होंने 16 ओवर में 45 रन पर दो विकेट लिए। तेज गेंदबाज उमेश यादव ने आठ ओवर में 13 रन पर एक विकेट लिया। 















विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You