साप्ताहिक राशिफल: इस सप्ताह किन राशियों पर होगी नवदुर्गा की कृपा, जानें...

  • साप्ताहिक राशिफल: इस सप्ताह किन राशियों पर होगी नवदुर्गा की कृपा, जानें...
You Are HereThe planets
Sunday, October 02, 2016-9:03 AM

मेष
सितारा सेहत के लिए ढीला, वाहन भी सजग रहकर ड्राइव करना चाहिए मगर व्यापार तथा कामकाज की दशा अच्छी, आम हालात भी बेहतर रहेंगे। 2 अक्तूबर दोपहर तक समय एहतियात-परेशानी वाला मगर 2 दोपहर से 4 अक्तूबर तक कामकाज की स्थिति संतोषजनक, घरेलू मोर्चा पर मधुरता, सद्भाव तथा तालमेल बढ़ेगा। 5 से 7 अक्तूबर बाद दोपहर तक सेहत का ध्यान रखें, नुक्सान परेशानी का डर, फिर 7 अक्तूबर बाद दोपहर से 8 अक्तूबर तक धार्मिक कामों में ध्यान, यत्न करने पर योजनाबंदी कुछ आगे बढ़ सकती है।

 

वृष
दुश्मनों के उभरने तथा सेहत के बिगड़ने का डर मगर कारोबारी कामों की दशा अच्छी, धार्मिक कामों में रुचि बनी रहेगी। 2 अक्तूबर दोपहर तक मनोबल तथा दबदबा बना रहेगा। 2 अक्तूबर दोपहर से 4 अक्तूबर तक किसी प्रबल शत्रु के टकरावी मूड के कारण आपकी परेशानियां बढ़ सकती हैं मगर 5 अक्तूबर से 7 अक्तूबर बाद दोपहर तक कारोबारी हालात अनुकूल चलेंगे, वैसे घरेलू मोर्चा पर खींचातनी तथा कशमकश रहने की आशंका, फिर 7 अक्तूबर बाद दोपहर से 8 अक्तूबर तक सेहत, खासकर पेट की संभाल रखें।

 

मिथुन
संतान के सहयोगी रुख के कारण कोई समस्या कुछ ढीली होगी, मगर स्कीमें-प्रोग्राम सुलझेंगे किंतु विरोधियों की शरारतें बढ़ने का डर इसलिए उनसे सावधान रहें। 2 अक्तूबर दोपहर तक समय कामयाबी वाला, 2 अक्तूबर दोपहर से 4 अक्तूबर तक यत्न करने पर आपकी कोई योजनाबंदी कुछ आगे बढ़ सकती है। 5 अक्तूबर से 7 अक्तूबर बाद दोपहर तक दुश्मनों से फासला रखें क्योंकि वे आपको नुक्सान पहुंचाने के लिए तुले हुए नजर आएंगे। 7 अक्तूबर बाद दोपहर से 8 अक्तूबर तक व्यापार तथा कामकाज की दशा सुखद, सफलता साथ देगी।

 

कर्क
सप्ताह का पूर्वाध कोर्ट-कचहरी तथा जायदादी कामों के लिए अच्छा मगर उत्तरार्द्ध में किसी न किसी पहलू से टैंशन-परेशानी बनी रह सकती है। 2 अक्तूबर दोपहर तक कामकाजी दौड़-धूप रहेगी। 2 अक्तूबर दोपहर से 4 अक्तूबर तक जमीनी तथा अदालती कामों के लिए आपकी भागदौड़ तथा मेहनत अच्छा रिजल्ट देगी। 5 से 7 अक्तूबर बाद दोपहर तक बुद्धि गलत तथा नकारात्मक सोच के प्रभाव में रहेगी। 7 बाद दोपहर से 8 अक्तूबर तक विरोधियों पर ज्यादा भरोसा न करना चाहिए।

 

सिंह
न तो कोर्ट-कचहरी में जाएं और न ही कोई जायदादी काम हाथ में लें क्योंकि ग्रह ‘फेवरेबल’ नहीं है, मगर मित्रों-सज्जन साथियों से मेल-सहयोग लाभकारी रहेगा। 2 अक्तूबर दोपहर तक कारोबारी दशा ठीक-ठाक , 2 अक्तूबर दोपहर से 4 अक्तूबर तक बड़े लोगों के सपोर्टिव रुख के कारण हालात बेहतर बनेंगे। 5 से 7 अक्तूबर बाद दोपहर तक जायदादी तथा अदालती कामों के लिए सितारा ढीला, अफसर नाराज हो सकते हैं, फिर 7 बाद दोपहर से 8 अक्तूबर तक उद्देश्य-मनोरथ हल होंगे, आमतौर पर कदम बढ़त की तरफ।

 

कन्या
पर्यटन, एयर टिकटिंग केटरिंग, फोटोग्राफी, कंसल्टैंसी का काम करने वालों को अपने कामों में लाभ मिलेगा मगर हल्की सोच वाले लोगों से फासला रखना जरूरी। 2 अक्तूबर दोपहर तक अर्थ दशा ठीक-ठाक, 2 दोपहर से 4 अक्तूबर तक समय धन लाभ के लिए अच्छा, कारोबारी टूरिंग भी लाभप्रद, 5 से 7 अक्तूबर बाद दोपहर तक हल्की नेचर तथा सोच वाले लोगों के साथ ज्यादा निकटता न रखें। 7 अक्तूबर बाद दोपहर से 8 अक्तूबर तक जमीनी कामों में कदम बढ़त की तरफ, मान-सम्मान की प्राप्ति।

 

तुला
सितारा धन हानि तथा किसी पेमेंट को फंसाने वाला मगर कारोबारी दशा संतोषजनक, मित्र तथा सहयोगी अनुकूल चलेंगे। 2 अक्तूबर दोपहर तक समय नुक्सान-परेशानी वाला, मगर 2 अक्तूबर दोपहर से 4 तक सितारा बेहतर, अर्थ तथा कारोबारी दशा अच्छी, 5 से 7 बाद दोपहर तक कारोबारी तथा लेन-देन के काम सोच-समझ कर निपटाएं, किसी की जिम्मेदारी में भी न फंसें, मगर 7 अक्तूबर बाद दोपहर से 8 अक्तूबर तक बड़े लोग मेहरबान तथा कंसिडरेट से रहेंगे।

 

वृश्चिक
सप्ताह का पहला तथा आखिरी हिस्सा कारोबारी कामों के लिए बेहतर मगर दरम्यानी हिस्से में उलझनों तथा नुक्सान-परेशानी का डर। साढ़ेसाती के कारण भी किसी न किसी झमेले में आप फंसे रह सकते हैं, एहतियात रखें। 2 अक्तूबर दोपहर तक अर्थदशा ठीक-ठाक, 2 दोपहर से 4 तक उलझनों झमेलों से बचाव रखें, किसी पर ज्यादा भरोसा भी न करें। 5 से 7 अक्तूबर बाद दोपहर तक मन अशांत, टैंस, डिस्टर्ब-सा रहेगा, मन तथा बुद्धि पर गलत सोच प्रभावी रहेगी। 7 बाद दोपहर से 8 अक्तूबर तक आमदन वाला सितारा।

 

धनु
सितारा धन लाभ, मान-सम्मान के लिए अच्छा मगर धन हानि-परेशानी तथा झमेलों के उभरने का डर, खर्चों पर कंट्रोल रखें। 2 अक्तूबर दोपहर तक समय सफलता देगा। 2 दोपहर से 4 तक समय धन लाभ तथा कारोबारी बेहतरी वाला, यत्न करने पर कोई नया कामकाजी काम मैच्योर होगा। 5 से 7 बाद दोपहर तक न तो किसी की जिम्मेदारी में फंसें और न ही कोई काम बे-ध्यानी से करें, मगर 7 बाद दोपहर से 8 अक्तूबर तक कारोबारी तथा अन्य हालात बेहतर चलेंगे।

 

मकर
किसी भी उलझन समस्या को सहजता के साथ डील न करें मगर सरकारी तथा कारोबारी कामों में कामयाबी, मान-सम्मान व प्रभाव दबदबा बना रहेगा। 2 अक्तूबर दोपहर तक आम हालात बेहतर, 2 दोपहर से 4 तक राजकीय कामों में कदम बढ़त की तरफ, अफसरों तथा बड़े लोगों में बोलबाला बना रहेगा। 5 से 7 बाद दोपहर तक व्यापार-कारोबार के कामों में लाभ, कामकाजी भागदौड़ अच्छा नतीजा देगी। 7 बाद दोपहर से 8 अक्तूबर तक नुक्सान का भय, खर्चों का जोर, सफर भी न करें।

 

कुंभ 
यत्न करने पर योजनाबंदी कुछ आगे बढ़ेगी, सितारा आमदन वाला मगर अफसरों के सख्त रुख के कारण सरकारी कामों में कोई न कोई बाधा मुश्किल जागती रहेगी। 2 अक्तूबर दोपहर तक सेहत का ग्रह ढीला, फिर 2 दोपहर से 4 अक्तूबर तक धार्मिक तथा सामाजिक कामों में ध्यान, स्कीमें मैच्योर होंगी। 5 से 7 अक्तूबर बाद दोपहर तक तैयारी के बगैर न तो कोई सरकारी काम हाथ में लें और न ही किसी अफसर के समक्ष जाएं, फिर 7 बाद दोपहर से 8 अक्तूबर तक समय धन लाभ तथा अर्थदशा कंफर्टेबल रखने वाला।

 

मीन
सेहत की संभाल रखें, मन भी गलत सोच के प्रभाव में रहेगा मगर राजकीय कामों में कामयाबी, बड़े लोग सपोर्टिव रुख रखेंगे। 2 अक्तूबर दोपहर तक कामकाजी दशा संतोषजनक, 2 दोपहर से 4 अक्तूबर तक सेहत, खासकर पेट की संभाल रखें। किसी की जिम्मेदारी में भी न फंसें मगर 5 से 7 अक्तूबर बाद दोपहर तक किसी न किसी बाधा-मुश्किल के साथ वास्ता रहेगा, बुद्धि भी गलत कामों की तरफ भटकती रह सकती है फिर 7 अक्तूबर बाद दोपहर से 8 अक्तूबर तक सरकारी, गैर-सरकारी कामों में कामयाबी मिलेगी।


 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You