आइए, चलें चिड़ियाघर

  • आइए, चलें चिड़ियाघर
You Are HereTourism
Sunday, January 11, 2015-3:46 PM
हमारे देश में कई तरह के जानवर है जिसे देखने के लिए हम लोग और खास कर बच्चे काफी खुश होते है लेकिन कई जंगली जानवर भी होते है जिसे हम सिर्फ चिड़ियाघर में ही देख सकते है। चिड़ियाघर को शुद्ध हिन्दी में पशु वाटिका कहा जाता है। यहां कई तरह के पशु-पक्षियों और जगंली जानवरों को उनके महौल के मुताबिक रखा जाता है और पूरा ध्यान दिया जाता है। 
 
भारत के अधिकतर चिड़ियाघर महज पशुओं की जेल बनकर रह गए हैं। कुछ ही ऐसे चिड़ियाघर है जहां बहुत ही अच्छे तरीके के साथ जानवरों को रखा जाता है।भारत में हर बड़े शहरों में एक चिड़ियाघर होता है।
 
आओ जानते हैं भारत के चिड़ियाघरों के बारे में, जहां आप भी जाकर अपना मनोरंजन कर सकते हैं।
 
चेन्नई का अरिनगर अन्ना जुलॉजिकल पार्क जो कि इससे पहले जू के नाम से जाना जाता था। भारत के दक्षिण भारत में स्थित चेन्नई का अरिनगर अन्ना जुलॉजिकल पार्क सबसे लोकप्रिय और प्रसिद्ध चिड़ियाघर है। यह भारत का सबसे बड़ा चिड़ियाघर माना जाता है और इसके साथ ही एशिया के सबसे अच्छे चिड़ियाघर में से एक है दिल्ली का चिड़ियाघर। इस चिड़ियाघर का डिजाइन श्रीलंका के मेजर वाइनमेन और पश्चिम जर्मनी के कार्ल हेगलबेक ने बनाया था।
 
इस चिड़ियाघर में एक पुस्तकालय है, जहां से पेड़-पौधों, पशु-पक्षियों के बारे में जानकारी ली जा सकती है और कर्नाटक के मैसूर में विश्व के सबसे पुराने चिड़ियाघरों में से एक चिड़ियाघर है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You