स्पाइसजेट के शेयर 7% तक टूटे, 52 हफ्तों के सबसे निचले स्तर पर

Edited By jyoti choudhary,Updated: 06 Jul, 2022 01:21 PM

spicejet shares fall up to 7 at 52 week low

स्पाइसजेट कंपनी के शेयर बुधवार को शेयर बाजार खुलने के बाद धड़ाम होते नजर आए। कंपनी के शेयरों में 7 प्रतिशत तक की गिरावट देखने को मिली है। कंपनी के शेयरों यह कमजोरी बीते दिनों कंपनी की विमानन सेवाओं में एक बाद एक हुई कई परेशानियों के बाद देखने को...

नई दिल्लीः स्पाइसजेट कंपनी के शेयर बुधवार को शेयर बाजार खुलने के बाद धड़ाम होते नजर आए। कंपनी के शेयरों में 7 प्रतिशत तक की गिरावट देखने को मिली है। कंपनी के शेयरों यह कमजोरी बीते दिनों कंपनी की विमानन सेवाओं में एक बाद एक हुई कई परेशानियों के बाद देखने को मिली है। इसके बाद कंपनी के शेयर बुधवार को बीएसई में लगभग 7 प्रतिशत तक टूटकर अपने 52 हफ्तों के निचले स्तर 35 रुपए तक पहुंच गई है। स्पाइसजेट के शेयर मंगलवार को 37.10 पैसों पर कारोबार कर रहे थे। मंगलवार को कंपनी के शेयर 2.33 रुपए टूटकर लगभग 37.65 रुपए पर बंद हुए थे। 

आपको बता दें कि मंगलवार को ही कंपनी का एक विमान जिसे दिल्ली से दुबई पहुंचना था, उसे फ्यूल इंडिकेटर में गड़बड़ी के कारण कराची डायवर्ट किया किया था। उसके बाद बुधवार की सुबह जब बाजार खुले तो कंपनी के शेयर 2.66 प्रतिशत की गिरावट के साथ 36.65 रुपए पर खुले थे। कंपनी के शेयरों में यह गिरावट ऐसे दिन में दर्ज की गई जब सेंसेक्स और निफ्टी दोनों हरे निशान में कारोबार कर रहे थे और बाजार का मूड बेहतर दिख रहा था। जानकार मानते हैं कि स्पाइसजेट के शेयरों में यह गिरावट कंपनी के खराब विमानसेवाओं की खबरों के बाद देखने को मिली है।  

आपको बता दें कि कंपनी के लिए मंगलवार का दिन बहुत खराब रहा था। एक ही दिन में दो कंपनी की विमान सेवाओं के दौरान दो बड़ी घटनाएं घटी थीं। पहली घटना में दिल्ली से दुबई जा रहे विमान को तकनीकी खामियों के कारण कराची डायवर्ट करना पड़ा था तो वहीं दूसरी ओर 23,000 फीट की ऊंचाई पर एक विमान की खिड़की में दरार दिखने के बाद उसे मुंबई में लैंड कराना पड़ा था। इस तरह एक ही दिन में ये दोनों घटनाएं कंपनी के लिए एक बड़े झटके की तरह थी। आपको बता दें कि तकनीकी खराबी की इस तरह सात घटनाएं कंपनी के विमानों के साथ एक पखवारे के भीतर घट चुकी हैं। विमानन कंपनियों की रेग्युलेटरी संस्था डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) के एक अधिकारी ने बताया है कि DGCA सभी सातों घटनाओं की जांच कर रही है।   
 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!