ईरान ने जासूसी के आरोप में ब्रिटिश उपराजदूत किया गिरफ्तार

Edited By Tanuja,Updated: 07 Jul, 2022 02:02 PM

iran arrests british deputy ambassador on spying charges

ईरान में बुधवार को ब्रिटिश मिशन के उपप्रमुख जाइल्स व्हिटेकर और कई अन्य लोगों जासूसी के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया।  इस्लामिक...

 तेहरानः ईरान में बुधवार को ब्रिटिश मिशन के उपप्रमुख जाइल्स व्हिटेकर और कई अन्य लोगों जासूसी के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया।  इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड्स कॉर्प्स (IRGC) ने मिसाइल अभ्यास के दौरान प्रतिबंधित क्षेत्र में जासूसी करने और मिट्टी के नमूने लेने के दावे पर इन राजनयिकों को हिरासत में लिया है। IRGC ने वीडियो फुटेज जारी करते हुए दावा किया कि व्हिटेकर को उस जगह के पास देखा गया है, जहां ईरानी सेना मिसाइल अभ्यास कर रही थी।

 

द यरूसलम पोस्ट के अनुसार उपराजदूत  ने माफी मांग ली है और उन्हें निष्कासित कर दिया गया है। बताया गया कि हिरासत में लिए गए संदिग्धों में से एक ने विश्वविद्यालय के साथ वैज्ञानिक आदान-प्रदान के प्रतभागी के तौर पर ईरान में प्रवेश किया था। IRGC ने यह भी दावा किया कि संदिग्ध ने कुछ इलाकों में मिट्टी का नमूना लिया है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि राजनयिकों का उपयोग अक्सर सैन्य स्थलों की तलाश करने और उपकरण और युद्ध सामग्री की पहचान करने के लिए किया जाता है।


रिपोर्ट के मुताबिक हिरासत में लिए गए राजनयिकों का इस्तेमाल अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (IAEA) में ईरान की फाइल के सैन्य पहलुओं से संबंधित एक नया मामला बनाने के लिए किया जा रहा था। यह उच्च स्तरीय गिरफ्तारी तब हुई है जब ईरान और विश्व शक्तियों के बीच जेसीपीओए परमाणु समझौते पर वापस लौटने का प्रयास थमा हुआ है। ईरान ने जुलाई 2015 में देश पर लगे प्रतिबंधों को हटाने के बदले में अपने परमाणु कार्यक्रम पर अंकुश लगाने पर सहमत होते हुए विश्व शक्तियों के साथ जेसीपीओए पर हस्ताक्षर किए थे।
 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!