नेपाली PM से मिली अमेरिका की विशेष समन्वयक उज़रा; तिब्बती शरणार्थियों से भी की मुलाकात, चीन ने जताई आपत्ति

Edited By Tanuja, Updated: 22 May, 2022 06:29 PM

visiting us official meets with tibetan refugees despite kathmandu s caveats

तिब्बती मामलों के लिए अमेरिका की विशेष समन्वयक उज़रा ज़ेया ने रविवार को नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा से मुलाकात की और दोनों ने...

काठमांडू: तिब्बती मामलों के लिए अमेरिका की विशेष समन्वयक उज़रा ज़ेया ने रविवार को नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा से मुलाकात की और दोनों ने द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देने के तरीकों सहित आपसी हित के कई मुद्दों पर चर्चा की। इससे पहले शनिवार को जेया ने ज्वालाखेल में तिब्बती शरणार्थियों के साथ  मुलाकात कर उनका हाल जाना।   उनकी इस मुलाकात पर चीन ने आपत्ति जताई है।   ज़ेया जो अमेरिका की नागरिक सुरक्षा, लोकतंत्र और मानवाधिकार मामलों की अवर मंत्री भी हैं, की देउबा से मुलाकात प्रधानमंत्री के बालूवाटर स्थित आवास में हुई।

 

देउबा ने ट्विटर पर कहा, “नागरिक सुरक्षा, लोकतंत्र और मानवाधिकार मामलों की अवर मंत्री के नेतृत्व में अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल का स्वागत करते हुए खुशी हुई। हमने नेपाल-अमेरिका संबंधों और आपसी हितों के मामलों पर विचारों का आदान-प्रदान किया।” नेपाल के विदेश मंत्रालय के मुताबिक, दोनों नेताओं के बीच हुई बैठक के दौरान नेपाल-अमेरिका द्विपक्षीय संबंधों और आपसी हित के विभिन्न विषयों पर चर्चा हुई। मंत्रालय के मुताबिक, अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहीं ज़ेया नेपाल की तीन दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार को यहां पहुंचीं।

 

नेपाल पहुंचने के बाद, ज़ेया ने नेपाल को 65.9 करोड़ डॉलर की सहायता की घोषणा की। उन्होंने ट्विटर पर कहा कि ‘यूएसएड' और नेपाल के बीच समझौता होने की खुशी है जो नेपाल को ‘लोकतांत्रिक और समृद्ध भविष्य के लिए हमारे साझा दृष्टिकोण का समर्थन करने के वास्ते 65.9 करोड़ डॉलर प्रदान करेगा।”  ज़ेया ने शुक्रवार को ‘इंटरनेशनल वुमन ऑफ करेज अवॉर्ड' पाने वाली भूमिका श्रेष्ठा और मुस्कान खातून से मुलाकात की। श्रेष्ठा को एलजीबीटीक्यूआई प्लस और खातून को तेज़ाब हमले के खिलाफ काम करने के लिए पुरस्कृत किया गया है। वह बौद्ध स्तूप भी गईं और नेपाल के समृद्ध धार्मिक, स्थापत्य तथा सांस्कृतिक इतिहास की प्रशंसा की।

 

ज़ेया नेपाल पहुंचने से पहले भारत गई थीं। भारतीय विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को बताया था कि 17-20 मई तक भारत की अपनी यात्रा के दौरान ज़ेया ने विदेश सचिव विनय मोहन क्वात्रा सहित सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की और इस दौरान साझा हितों से जुड़े वैश्विक एवं क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा की। शनिवार को जेया ने ज्वालाखेल में तिब्बती शरणार्थी नेताओं के साथ बातचीत की। सुरक्षा अधिकारियों के अनुसार, बैठक एक घंटे से अधिक चली और अमेरिकी अधिकारी ने नेपाल में तिब्बती शरणार्थियों की चिंताओं को सुना। ज्वालाखेल स्थित तिब्बती शिविर का दौरा करने से पहले, उन्होंने कुछ मानवाधिकार रक्षकों के साथ एक बैठक भी की और तिब्बती शरणार्थियों से संबंधित मुद्दों और उनके सामने आने वाली समस्याओं पर चर्चा की।  

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

98/5

India are 98 for 5

RR 3.50
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!