जब नेहरू ने कहा था कि 'नेशनल हेराल्ड' बंद नहीं होगा, भले ही उन्हें अपना घर 'आनंद भवन' क्यों न बेचना पड़े

Edited By rajesh kumar,Updated: 04 Aug, 2022 06:27 PM

when nehru said national herald wouldn t shut down even

कांग्रेस की केरल इकाई ने नयी दिल्ली में हेराल्ड हाउस में 'यंग इंडियन' कंपनी का कार्यालय प्रवर्तन निदेशालय द्वारा सील किए जाने के एक दिन बाद बृहस्पतिवार को कहा कि 'नेशनल हेराल्ड' देश और पार्टी के लिए 'एक भावना' है और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) इसका...

नेशनल डेस्क: कांग्रेस की केरल इकाई ने नयी दिल्ली में हेराल्ड हाउस में 'यंग इंडियन' कंपनी का कार्यालय प्रवर्तन निदेशालय द्वारा सील किए जाने के एक दिन बाद बृहस्पतिवार को कहा कि 'नेशनल हेराल्ड' देश और पार्टी के लिए 'एक भावना' है और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) इसका इतिहास नहीं जानती। राज्य की विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष वी.डी. सतीशन ने फेसबुक पर एक विस्तृत लेख में कहा कि समाचार पत्र ने देश की स्वतंत्रता प्राप्ति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी और पंडित जवाहरलाल नेहरू ने एक बार कहा था कि 'नेशनल हेराल्ड' बंद नहीं होगा, भले ही उन्हें अपना घर 'आनंद भवन' क्यों न बेचना पड़े।

उन्होंने लिखा, ''कांग्रेस नेतृत्व के लिए 'नेशनल हेराल्ड' को बनाए रखना एक ऐतिहासिक जिम्मेदारी थी, जिसे नेहरू ने बहुत प्यार से संभाला था।'' नेशनल हेराल्ड की पृष्ठभूमि का विवरण देते हुए सतीशन ने कहा कि एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) 1937 में नेहरू द्वारा स्थापित एक कंपनी थी, जिसका उद्देश्य भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के संदेश को प्रकाशनों के माध्यम से लोगों तक पहुंचाना था और बाद में इसने अंग्रेजी में 'नेशनल हेराल्ड', उर्दू में 'कौमी आवाज' और हिंदी में 'नवजीवन' प्रकाशित किया था। साल 2008 में करोड़ों रुपये के वित्तीय बोझ के कारण तीनों प्रकाशनों को रोक दिया गया था और एक गैर-लाभकारी कंपनी 'यंग इंडियन' ने एजेएल की देनदारियों की जिम्मेदारी ले ली थी।

सोनिया गांधी और राहुल गांधी सहित कांग्रेस के नेता 'यंग इंडियन' कंपनी के सदस्य थे। उन्होंने कहा कि कंपनी ने बाद में समाचार पत्रों का प्रकाशन फिर से शुरू किया और यह एक ऐसे बिंदु तक पहुंच गया जहां कर्मचारियों को बिना किसी रुकावट के वेतन का भुगतान किया जा सकता था। सतीशन ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल करने का आरोप लगाते हुए कहा कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने के इल्जाम तर्कहीन हैं। उन्होंने कहा कि यह मत सोचिए कि इन सबसे कांग्रेस को चुप कराया जा सकता है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने धनशोधन मामले की जांच के तहत बुधवार को कांग्रेस के स्वामित्व वाले नेशनल हेराल्ड कार्यालय में मौजूद यंग इंडियन के कार्यालय को अस्थायी रूप से सील कर दिया।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!