रुपए में गिरावट से प्रभावित होंगी कंपनियों की ऋण साख: मूडीज

  • रुपए में गिरावट से प्रभावित होंगी कंपनियों की ऋण साख: मूडीज
You Are HereBusiness
Friday, September 13, 2013-3:30 PM

नई दिल्ली: वैश्विक साख निर्धारक एजेंसी (मूडीज) ने कहा है कि रुपए में आई कमजोरी से इंडियन, आयल, टाटा स्टील और टाटा पावर समेत गैर वित्तीय क्षेत्र की कई भारतीय कंपनियों के लिए कर्ज जुटाना महंगा होने से आगे इनकी ऋण साख प्रभावित हो सकती है।

मूडीज की ओर से जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि रुपया कमजोर होने से भारतीय कंपनियों के लिए विदेशी मुद्रा में लिए जाने वाले कर्ज मंहगे हो रहे है ऐसे में कंपनियों पर इसका बोझ बढ रहा है जो आगे इनकी साख को बुरी तरह प्रभावित कर सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक डॉलर के मुकाबले काफी कमजोर पड चुके रुपए की मजबूती के लिए रिजर्व बैंक की ओर से तरलता सोखने के सख्त उपायों से आगे ब्याज दरें और बढने की संभावना है।

दूसरी ओर अमेरिकी फेड रिजर्व की ओर से प्रोत्साहन पैकेज वापसी का कदम विदेशी मुद्रा के कर्जों को भी मंहगा बना सकता है। मूडीज ने इस संबंध में इंडियन आयल, टाटा स्टील और टाटा पावर समेत देश में गैर वित्तीय क्षेत्र की 14 कंपनियों का जिक्र करते हुए कहा है कि इनपर कुल 2.2 लाख करोड रुपए का कर्ज है जिसका भुगतान इन्हें मार्च 2014 तक करना है। इस ऋण का पचास फीसदी हिस्सा विदेशी मुद्रा में है जिसे विदेशी मुद्रा में ही चुकाया जाना है। लिहाजा कमजोर रुपए के कारण कर्ज की कीमत काफी बढ गई है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You