सोने के आभूषणों की बिक्री 60 फीसदी कम रहने का अनुमान

  • सोने के आभूषणों की बिक्री 60 फीसदी कम रहने का अनुमान
You Are HereBusiness
Friday, November 01, 2013-12:24 PM

मुंबई: मांग के बावजूद सोने के आभूषणों की बिक्री मौजूदा त्योहारी सीजन में स्टाक की कमी से 60 फीसदी घटने का अनुमान है। उद्योग विशेषज्ञों का कहना है कि आयात पर अंकुशों की वजह से सोने का स्टाक कम है।

मुंबई ज्वेलर्स एसोसिएशन के उपाध्यक्ष कुमार जैन ने कहा, ‘‘सोने के आभूषण व सिक्कों की मांग निश्चित रूप से है। लेकिन बाजार में हमारे पास पर्याप्त स्टाक नहीं है, जिससे त्योहारी सीजन की मांग को पूरा किया जा सके।’’ जैन ने कहा कि इस वजह से लोग चांदी या हीरा खरीद रहे हैं। उन्होंने बताया कि चालू खाते के घाटे पर काबू के लिए सरकार द्वारा सोने के आयात पर जो अंकुश लगाए गए हैं उनकी वजह से अगस्त व सितंबर में सोने का आयात नहीं हुआ। इस महीने वह सोना बाजार में आया है जो सीमा शुल्क विभाग के भंडार में पड़ा था।

इसी तरह की राय जाहिर करते हुए बांबे बुलियन एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष सुरेश हुंडिया ने कहा कि सोने और सोने के आभूषणों की बिक्री में करीब 60 फीसदी की गिरावट आएगी। वहीं चांदी के लिए यह गिरावट 50 प्रतिशत की होगी। गीतांजलि समूह के चेयरमैन मेहुल चौकसी ने कहा कि पिछले साल की तुलना में सर्राफा बाजारों में ग्राहकी कम रहने की रपटे हैं। इसका असर निश्चित रूप से बिक्री पर पड़ेगा। उन्होंने कहा कि देशभर से खबरें मिल रही हैं कि आभूषणों के शोरूम में ग्राहकों की आवाजाही 30 से 35 फीसदी घटी है।

सोने की बिक्री में 30 से 35 प्रतिशत व डायमंड ज्वेलरी में 10 से 15 प्रतिशत की गिरावट आने का अंदेशा है। आल इंडिया जेम्स एंड ज्वेलरी ट्रेड फेडरेशन के चेयरमैन हरीश सोनी ने हालांकि कहा कि इस साल आभूषणों की बिक्री पिछले साल के स्तर पर ही रहेगी। उन्होंने कहा, ‘‘आभूषणों की बिक्री पिछले साल के स्तर पर रहेगी। हालांकि, सोने के सिक्के व छड़ों की बिक्री में 50 फीसदी गिरावट आने का अनुमान है।’’

हालांकि, चांदी की बिक्री के बारे में सोनी ने कहा कि यह पिछले साल से बेहतर रहेगी। एंजल ब्रोकिंग के नवीन माथुर ने कहा कि सीमा शुल्क विभाग के पास पड़े भंडार पर स्पष्टता नहीं होने की वजह से इसे अक्तूबर के अंतिम दिनों में जारी किया गया। इस देरी की वजह से बिक्री में निश्चित रूप से 30 प्रतिशत की गिरावट आएगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You