‘बैंक दे ग्राहक को 50 हजार रुपए या हवाई टिकट’

  • ‘बैंक दे ग्राहक को 50 हजार रुपए या हवाई टिकट’
You Are HereBusiness
Sunday, January 05, 2014-11:28 AM

नई दिल्ली: उपभोक्ता मंच ने एक्सिस बैंक को निर्देश दिए हैं कि वह उसका क्रेडिट कार्ड रखने वाले एक पीड़ित व्यक्ति को या तो 50 हजार रुपए का मुआवजा दे या फिर उसे अंतर्राष्ट्रीय उड़ान का टिकट उपलब्ध कराए। पीड़ित व्यक्ति बैंक की ‘‘छलपूर्ण योजनाओं’’ का शिकार बना है। नई दिल्ली जिला उपभोक्ता वाद निवारण फोरम ने पाया कि बैंक की योजना के तहत शिकायतकर्ता को वादा किया गया था कि यदि वह अपने क्रेडिट कार्ड के जरिए न्यूनतम एक लाख रुपए खर्च करता है तो उसे अंतर्राष्ट्रीय उड़ान का टिकट दिया जाएगा।

 

लेकिन इससे भी ज्यादा राशि खर्च देने के बावजूद बैंक ने उसे यह लाभ देने से ‘‘मनमाने ढंग से’’ इंकार कर दिया। सी.के. चतुर्वेदी की अध्यक्षता वाले फोरम ने अपने आदेश में कहा कि बैंक ने ‘‘एक ग्राहक से झूठा वायदा कर उसे क्रेडिट कार्ड के जरिए अधिकतम खरीद करने के लिए प्रेरित किया’’ और इस तरह ‘‘लाखों ग्राहकों से एक्सिस बैंक ने खुले बाजार में धोखाधड़ी की ।’’ उपभोक्ता फोरम ने एक्सिस बैंक को ‘‘सेवा में कमी गलत ढंग से व्यापार करने और शिकायतकर्ता का शोषण करने के लिए मनमाने ढंग से धोखाधड़ी वाली योजना लाकर अनुबंध का उल्लंघन करने का दोषी ठहराया।’’

 

फोरम ने बैंक को निर्देश दिया कि ‘‘या तो वह शिकायतकर्ता को मना किए गए उड़ान टिकट के बदले दूसरा टिकट उपलब्ध कराए या फिर उसे 40 हजार रुपये का मुआवजा और 10 हजार रूपए कानूनी कार्रवाई खर्च के रूप में दे।’’ दिल्ली निवासी हर भगवान वाधवा ने आरोप लगाया था कि उसे एक्सिस बैंक से योजना पत्र मिला था। इसमें कहा गया था कि यदि वह न्यूनतम एक लाख रूपए अपने कार्ड के जरिए खर्च करते हैं तो उन्हें उपहार में विमान का टिकट दिया जाएगा।

 

उन्होंने दावा किया कि उन्होंने तय राशि से ज्यादा खर्च की है, उनकी योग्यता की पुष्टि बैंक ने की थी और उन्होंने टिकट के लिए बुकिंग फॉर्म भी समय पर भरकर भेज दिया था। इसके बावजूद एक्सिस बैंक ने अपना वादा पूरा नहीं किया। एक्सिस बैंक ने इस दावे से यह कहकर इंकार कर दिया कि वह दूसरी शर्तें पूरी नहीं करते लेकिन फोरम ने बैंक का यह दावा खारिज कर दिया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You