RBI ने कहा, ATM से पैसा निकालने पर चार्ज की बात हास्यास्पद

  • RBI ने कहा, ATM से पैसा निकालने पर चार्ज की बात हास्यास्पद
You Are HereBusiness
Thursday, January 09, 2014-11:23 AM

नई दिल्ली: आरबीआई के डेप्युटी गवर्नर के सी चक्रवर्ती ने इंडियन बैंक्स एसोसिएशन के एटीएम से पैसा निकालने पर चार्ज लगाने के बैंकों के प्रस्ताव को हास्यास्पद और बेतुका बताया है। जानकारी के मुताबिक, चक्रवर्ती ने कहा कि ऐसा आज तक दुनिया में कहीं नहीं हुआ कि बैंक कस्टमर्स से पैसा निकालने के लिए शुल्क लें, वह भी उनके अपने एटीएम से। उन्होंने कहा कि अभी बैंकिंग सेक्टर में ज्यादा कॉम्पिटिशन नहीं है, इसलिए वे बेतुकी बातें कर रहे हैं। बैंकिंग सेक्टर में कॉम्पिटिशन बढऩे से इस तरह का ख्याल भी किसी के मन में नहीं आएगा।

दिलचस्प बात यह है कि बैंकों की ओर से यह प्रपोजल ऐसे वक्त आया है, जब आरबीआई कस्टमर्स को एटीएम के ज्यादा इस्तेमाल के लिए बढ़ावा दे रहा है। उसका मानना है कि इससे बैंकों की ब्रांच कॉस्ट में कमी आएगी। लेकिन, इंडियन बैंक्स एसोसिएशन का कहना है कि एटीएम की फिजिकल सिक्योरिटी के चलते बैंकों पर 4,000 करोड़ रुपए से ज्यादा का बोझ बढ़ेगा। इस हफ्ते की शुरुआत में इंडियन बैंक्स एसोसिएशन के सीईओ एम वी टंकसाले ने कहा था कि हमारे पास चार्ज बढ़ाने के अलावा कोई रास्ता नहीं है। हमने एटीएम से फ्री ट्रांजैक्शन की सीमा 5 तय करने का प्रस्ताव रखा है।

चक्रवर्ती ने यह भी माना कि कॉस्ट ज्यादा होने पर बैंकों के पास चार्ज बढ़ाने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचेगा। हालांकि आरबीआई के पास एटीएम ट्रांजैक्शन चार्ज पर बैंकों की ओर से फॉर्मल प्रपोजल नहीं आया है, परंतु अगर बैंक इसे रेगुलेटर के सामने उठाते हैं, तो आरबीआई उनकी कॉस्ट और वाजिब चार्ज तय करने के लिए एक कमेटी बना सकता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You