वॉट्सऐप की कामयाबी मेरी वजह से: नीरज

  • वॉट्सऐप की कामयाबी मेरी वजह से: नीरज
You Are HereBusiness
Friday, February 21, 2014-12:43 PM

नई दिल्ली: वॉट्सऐप के लिए काम कर रहे नीरज अरोड़ा ने अपनी पसर्नल वेबसाइट पर लिखा है कि वह 'कंपनी में बिजनेस से जुड़ी सभी चीजों के लिए' जिम्मेदार हैं और खुद को 'अच्छा व्यक्ति मानते हैं।' नीरज के दोस्त और बैचमेट भी इससे सहमत हैं।

नीरज ने इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस (आईएसबी) से मैनेजमेंट की डिग्री हासिल की है। आईएसबी में उनके साथ पढ़ चुके और ट्रेनिंग सॉफ्टवेयर कंपनी माइंडटिकल के को-फाउंडर मोहित गर्ग कहते हैं कि टाइम्स इंटरनेट से लेकर वॉट्सऐप तक अरोड़ा के पास सही समय पर मौके पहचानने की अनूठी क्षमता है। गर्ग ने कहा, 'वह वेल कनेक्टेड हैं और इससे उन्हें सीढ़ी ऊपर चढ़ने में मदद मिली है।'

गौरतलब है कि सोशल नैटवर्किंग की कंपनी फेसबुक 19 अरब डॉलर में मोबाईल मैसेजिंग कंपनी ‘वॉट्सऐप’ को खऱीदेगी। याहू में प्रॉडक्ट मैनेजमेंट के डायरेक्टर शमीक चक्रवर्ती ने बताया कि उनका करियर वास्तव में गूगल से चढ़ा, जहां वो स्टार्टअप लॉन्च करने या उसकी फंडिंग के बारे में भी सोच रहे थे। चक्रवर्ती आईएसबी में आंत्रप्रेन्योरशिप और वेंचर कैपिटल क्लब के भी प्रेजिडेंट थे।

माउंटेन व्यू में पहुंचने पर अरोड़ा का रोल गूगल के लिए स्टार्टअप्स की खोज करना था। इस दौरान उन्हें सिलिकॉन वैली में बहुत से लोगों से मिलने और जुड़ने का मौका मिला और उन्हें ये समझने में मदद मिली कि मार्केट में क्या चल रहा है। अरोड़ा नवंबर 2011 में वॉट्स ऐप में शामिल हुए थे।

उस समय कंपनी के पास लगभग 10 एंप्लॉयी थे और वह सफलता की ओर बढ़ रही थी। उन्हें विशेषतौर पर गूगल में उनके कॉर्पोरेट डिवेलपमेंट बैकग्राउंड की वजह से रिक्रूट किया गया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You