MTNL के साथ विलय के खिलाफ BSNL की हड़ताल की धमकी

  • MTNL के साथ विलय के खिलाफ BSNL की हड़ताल की धमकी
You Are HereBusiness
Tuesday, March 04, 2014-4:15 PM

नई दिल्ली: सार्वजनिक क्षेत्र की टेलीकाम कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के ढाई लाख कर्मचारियों ने महानगर टेलीफोन लिमिटेड (एमटीएनएल) के साथ कंपनी के विलय के सरकारी प्रस्ताव के विरोध में हड़ताल पर जाने की धमकी दी है। बीएसएनल के कर्मचारी कंपनी के टावरों के लिए पृथक कंपनी बनाए जाने की योजना का भी विरोध कर रहे हैं।

बीएसएनएल की कर्मचारी यूनियन ने कहा है कि एमटीएनएल और बीएसएनएल के विलय से कंपनी को आगे भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। उसके अनुसार सरकार ने पहले खुद ही सरकारी टेलीकाम सेवा को तीन अलग-अलग कंपनियों बीएसएनएल, एमटीएनएल और वीएसएनएल में विभाजित किया जिसके कारण इन सार्वजनिक कंपनियों के कारोबार पर विपरीत असर पडा।

कर्मचारी संघ के अनुसार अब सरकार इन्हें फिर से मिलाने का मन बना रही है जो कतयी व्यवहारिक नहीं है। इतने सालों में बहुत कुछ बदल चुका है। एमटीएनएल में सरकार 46.5 प्रतिशत का विनिवेश कर चुकी है जबकि बीएसएनएल अभी सौ फीसदी सरकारी कंपनी है। दूसरी ओर एमटीएनएल के कर्मचारियों को बीएसएनएल के कर्मचारियों से कहीं बहुत अधिक तनख्वाह मिलती है। ऐसे में इन मुद्दों को सुलझाए बिना दोनों कंपनियों के विलय की योजना बनाने से बीएसएनएल के कर्मचारियों का भविष्य खतरे में पड़ जाएगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You