कंपनियां नए बैंक लाइसेंस पाने की दौड़ में!

  • कंपनियां नए बैंक लाइसेंस पाने की दौड़ में!
You Are HereBusiness
Thursday, March 20, 2014-4:03 PM

मुंबई: भारतीय चुनाव आयोग ने रिजर्व बैंक के नए बैंक लाइसेंस जारी करने की योजना पर रोक लगाने पर डिप्टी गवर्नर केसी चक्रवर्ती ने आज कहा कि उन्हें आयोग से इस बारे में अभी कोई सूचना नहीं मिली है। चक्रवर्ती ने यहां एक कार्यक्रम के अवसर पर संवाददाताओं को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा, मुझे तो केवल इतना ही पता है कि रिजर्व बैंक ने नए बैंक लाइसेंस जारी करने के मुद्दे पर चुनाव आयोग की राय मांगी है। उन्होंने जवाब दिया या नहीं, मुझे जानकारी नहीं।

कल तक तो मुझे इस बारे में कोई जानकारी नहीं थी। मीडिया के एक वर्ग में आज चुनाव आयोग के अज्ञात अधिकारी के हवाले से खबर प्रकाशित हुई हैं कि वह भारतीय रिजर्व बैंक को अपनी योजना का कार्यान्वयन चुनावों से पहले करने की अनुमति शायद नहीं दे। आयोग को कुछ पहलुओं पर केंद्रीय बैंक से और अधिक स्पष्टता की जरूरत है।

उल्लेखनीय है कि वित्तमंत्री पी चिदंबरम तथा रिजर्व बैंक गवर्नर रघुराम राजन ने विश्वास जताया था कि चुनाव आयोग को इस मुद्दे पर कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए क्योंकि बैंक लाइसेंस की प्रक्रिया तो चुनाव सीजन से बहुत पहले शुरू हुई थी। यह प्रक्रिया तो वस्तुत: वित्त वर्ष 2011 के बजट में शुरू हुई और पिछले साल जुलाई में 26 कंपनियों के आवेदन मिलने के बाद इसमें गति आई। अभी 24 कंपनियां नए बैंक लाइसेंस पाने की दौड़ में हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You