दो-तीन वर्षों में हवाई अड्डों की संख्या दोगुना करने की योजना: सिन्हा

  • दो-तीन वर्षों में हवाई अड्डों की संख्या दोगुना करने की योजना: सिन्हा
You Are HereTop News
Sunday, November 20, 2016-6:34 PM

चेन्नईः नागर विमानन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने कहा है कि सरकार की योजना अगले 2 से 3 साल में देश में हवाई अड्डों की संख्या दोगुना करने की है। इसका उद्देश्य उस घरेलू विमानन उद्योग को सेवाएं देना है जिनका अभी तक दोहन नहीं हो पाया है और जहां यात्रियों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है।  

सिन्हा ने कल रात एस.आई.सी.सी.आई. द्वारा आयोजित तीसरे जी रामचंद्रन स्मृति व्याख्यान में कहा, ‘‘हमारी पार्टी ने 2014 के चुनाव घोषणा पत्र में उड़े देश का आम आदमी (उड़ान) योजना की घोषणा की थी। इसके तहत हवाई अड्डों की संख्या बढ़ाई जानी है। तथ्य यह है कि हमारे पास अनुसूचित सेवाओं वाले 75 हवाई अड्डे हैं। हमारे इसे 2 से 3 साल में दोगुना करने का इरादा है।’’   

सरकार ने इस साल एक जुलाई को उड़ान योजना का मसौदा पेश किया। इसके तहत एक घंटे की उड़ान के लिए 2,500 रुपए (सभी कर शामिल) का किराया निश्चित किया गया। इसका मकसद आम आदमी के लिए उड़ानों को सस्ता बनाना है। सिन्हा ने बताया कि सरकार उड़ान हवाई संपर्क योजना चलाने को 400 करोड़ रुपए जुटाएगी। सरकार एयरलाइंस से अन्य प्रमुख हवाई अड्डों के लिए संपर्क उपलब्ध कराने वाले मार्गों पर बोली लगाने को कह रही है। सिन्हा ने बताया कि सबसे कम दर की बोली लगाने वाली एयरलाइंस को मार्ग आवंटित किया जाएगा। इस योजना का मकसद अल्पविकसित मार्गों के क्षेत्रीय मार्ग का विकास करना है। सिन्हा ने कहा, ‘‘जनवरी, 2017 में जब बोलियां दी जाएंगी, हम पूरी तरह नए क्षेत्रीय बाजार का सृजन करेंगे।’’ 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You