घर बदलते हुए रखें इन बातों का ध्यान

  • घर बदलते हुए रखें इन बातों का ध्यान
You Are HereBusiness
Saturday, November 25, 2017-10:55 AM

जालंधरः घर बदलना एक बड़ी चुनौती से कम नहीं होता। घर का सारा सामान पैक करना, उसे ट्रक में लोड करना तथा नई जगह पर उतारना और फिर नए घर में सामान को अनपैक करना किसी के भी पसीने छुड़ा सकता है। इस काम में मूविंग कम्पनी सहायता कर सकती है परंतु फिर भी कई काम खुद ही करने पड़ते हैं। मूविंग कम्पनी की सेवाएं लेने के स्थान पर स्वयं सारा काम करना कई लोगों को एक किफायती विकल्प लगता है। आप चाहे स्वयं सब कुछ करें या किसी पेशेवर की मदद लें कुछ बातों का ध्यान रखना आवश्यक होगा :

सही आकार के बॉक्स का इस्तेमाल 
भारी चीजें जैसे किताबों को छोटे बक्सों में पैक करें, हल्की चीजों जैसे कपड़े और तकियों को बड़े बक्सों में डालें। बड़े बक्सों में भारी चीजें डालने से एक तो उन्हें उठाना कठिन होगा और उनमें चीजों के टूटने-फूटने की सम्भावना भी ज्यादा रहती है। पैकिंग करते वक्त भारी चीजों को नीचे तथा हल्की चीजों को ऊपर रखें।

टूटने वाली चीजों की पैकिंग
आसानी से टूट सकने वाली चीजों जैसे प्लेटों को पैक करते वक्त प्रत्येक को पैकिंग पेपर में लपेट दें। फिर पांच-छ: के बंडल बना कर उन्हें एक साथ पैकिंग पेपर से लपेटें। बक्से में उन्हें सीधा नहीं, खड़ा करके पैक करें। इनके नीचे तथा ऊपर पैडिंग के लिए गुच्छा-मुच्छा किए कागज को रखना न भूलें। कटोरियों को पैक करते वक्त एक के भीतर दूसरे को रखने से पहले उनके बीच कागज रख लें। इन्हें भी तीन-चार के बंडल बना कर एक साथ पैक करें।

खास चीजों की पैकिंग
अक्सर मूवर्स टी.वी. को अन्य फर्नीचर की तरह फर्नीचर पैड्स में पैक कर देते हैं। इस बात का ध्यान रखें कि मूल पैकिंग न होने पर प्लाज्मा टी.वी. को ले जाने के लिए लकड़ी के विशेष क्रेट्स की जरूरत होगी। इन्हें लेटा कर भी नहीं रखा जा सकता है। यदि आप स्वयं पैकिंग कर रहे हैं तो टी.वी. की डबल पैकिंग करें यानी टी.वी. वाले बक्से को दूसरे बक्से में पैक करें जिसमें पैकिंग पेपर से पैडिंग दी हो।

बड़े घरेलू उपकरणों की पैकिंग
बड़े घरेलू उपकरणों को ले जाना कठिन होता है। वे केवल भारी ही नहीं होते, कइयों को अन-इंस्टॉल भी करना पड़ता है। लगभग सभी मूविंग कम्पनियां कहती हैं कि सभी बड़े उपकरणों को उनके आने से पहले अन-इंस्टॉल करके रखा जाना चाहिए। कई मूविंग कम्पनियां ऐसे पेशेवरों की सेवाएं भी देती हैं, जो उन्हें अन-इंस्टॉल कर सकते हैं। कहने को बेशक यह सब बहुत आसान लगे, गलत ढंग से इन चीजों की पैकिंग का नतीजा हो सकता है कि नई जगह पर जाकर वे काम ही न करें।

फर्नीचर तथा किचन के बर्तनों की पैकिंग
बैड को पैक करने से पहले उसके सभी हिस्सों को खोल कर अलग करना होगा। इस काम के लिए स्क्रू ड्राइवर के सैट को तैयार रखना चाहिए। अपने पास एक छोटा बैग रखें जिसमें सभी नट-बोल्ट रख सकें, ताकि वे गुम न हो जाएं। नई जगह पहुंचने पर आसानी से इस बैग से आपको बैड फिट करने के लिए सभी चीजें मिल जाएंगी। बैड की सभी चीजों को ट्रक में एक साथ  रखें। इसी ढंग से अन्य फर्नीचर को भी पैक कर लें। रसोई की चीजों को पैक करते वक्त बड़े बर्तनों से शुरूआत करें। एक जैसी चीजों को एक साथ पैक करें। जैसे कि चम्मच तथा चाकुओं को एक साथ बंडल बना कर पैक किया जा सकता है। इससे नई जगह पहुंच कर चीजों को निकालते वक्त सुविधा रहेगी। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You