ज्यादा बिजली बिल से हैं परेशान तो आपके काम की है ये खबर

  • ज्यादा बिजली बिल से हैं परेशान तो आपके काम की है ये खबर
You Are HereBusiness
Friday, October 28, 2016-2:10 PM

बैंगलूरः एल.ई.डी. बल्ल के इस्तेमाल से बिजली की बड़े पैमाने पर खपत होती है। हाल ही में कर्नाटका में एल.ई.डी. बल्बों को बढ़ावा देते हुए एल.ई.डी. ट्यूब लाइट का प्रयोग किया। कम बिजली खपत, बेहतर प्रकाश व्यवस्था के लिए ऊर्जा विभाग ने एल.ई.डी. ट्यूब रोशनी को बढ़ावा देना शुरू किया है। बैंगलूर जैसे शहर में बढ़ती डिमांड को देखते हुए सरकार अब बड़े शहरों में रियायती कीमतों पर एल.ई.डी. ट्यूब उपलब्ध कराएगी। सिर्फ इतना ही नहीं, सरकार ने बिजली की अधिक से अधिक बचत के लिए राज्य भर में छत और दीवार पर लगे एनर्जी एफीशिएंट पंखे उपलब्ध कराने की योज बना रही है। 

 

शनिवार को मीडिया के साथ बातचीत के दौरान ऊर्जा मंत्री डीके शिवकुमार ने कहा, "एल.ई.डी. बल्ब वे ग्रामीण क्षेत्रों में बड़ा प्रभाव डाला है। शहरी क्षेत्रों खासतौर पर बैंगलूर जैसे शहर में लोग बिजली के लिए बल्ब की जगह ट्यूब लाइट का इस्तेमाल करते हैं। इसलिए हमने तय किया कि बैंगलूर के अलावा बाकी शहरी क्षेत्रों में आने वाले दिनों एल.ई.डी. ट्यूब लाइट्स को बढ़ावा दिया जाएगा।'' शिवकुमार ने कहा कि एल.ई.डी. ट्यूब सस्ती कीमत पर जनता को उपलब्ध कराई जाएगी। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि इन ट्यूब लाइट की कीमत को बिक्री के आधार पर कम या ज्यादा किया जा सकता है। मंत्री ने कहा कि आने वाले दिनों में एल.ई.डी. बल्ल की कीमते कम की जा सकती हैं। फिलहाल एक बल्ब की कीमत 90 रुपए है और डिमांड बढ़ने पर बल्ब की कीमत 50 रुपए तक कर सकते हैं। जिसकी घोषणा जल्द की जा सकती है। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You