मोदी के राज में झूमा शेयर बाजार, निफ्टी पहली बार 10000 के पार

  • मोदी के राज में झूमा शेयर बाजार, निफ्टी पहली बार 10000 के पार
You Are HereBusiness
Tuesday, July 25, 2017-10:34 AM

नई दिल्लीः निफ्टी ने पहली बार रिकॉर्ड 10000 के स्तर को पार कर लिया है। निफ्टी ने 10011.30 का नया रिकॉर्ड उच्चतम स्तर छूआ है। शुरुआती कारोबार में सैंसेक्स और निफ्टी में 0.25 फीसदी की बढ़त देखने को मिल रही है। सैंसेक्स 32300 के ऊपर कारोबार कर रहा है।

मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में खरीददारी
मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी खरीदारी दिख रही है। बी.एस.ई. का मिडकैप इंडेक्स 0.3 फीसदी बढ़ा है, जबकि निफ्टी के मिडकैप 100 इंडेक्स की चाल सपाट है। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.2 फीसदी तक मजबूत हुआ है। बैंकिंग, मेटल, कंज्यूमर ड्युरेबल्स, पावर और रियल्टी शेयरों में खरीदारी देखने को मिल रही है हालांकि आईटी, मीडिया, फार्मा, कैपिटल गुड्स और ऑयल एंड गैस शेयरों में बिकवाली का दबाव नजर आ रहा है।
PunjabKesari
हैवीवेट स्टॉक्स में भी रिकॉर्ड तेजी 
निफ्टी के रिकॉर्ड हाई पर पहुंचने के साथ कई हैवीवेट स्टॉक्स में भी रिकॉर्ड तेजी देखने को मिली है। शुरुआती कारोबार में 50 से ज्यादा स्टॉक साल के नए उच्चतम स्तर पर पहुंच गए इनमें एच.डी.एफ.सी. बैंक, हिंडाल्को, आई.सी.आई.सी.आई. बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज शामिल हैं इसके साथ ही अडानी पोर्ट्स इसके साथ ही अडानी पोर्ट्स, वेलस्पन कॉर्प, बी.ई.एम.एल., इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस भी साल के नए हाई पर पहुंच गए हैं। हैवीवेट स्टॉक्स में रिकॉर्ड तेजी से ही निफ्टी और सेंसेक्स को सहारा मिला है। 

निफ्टी का सफर
निफ्टी ने अपने सफर की शुरुआत 1994 में की थी। ये भारत का प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज है। एन.एस.ई ने इलैक्ट्रनिक स्क्रीन बेस्ड ट्रेडिंग 1994 मे लांच की थी और इंटरनैय ट्रेडिंग की शुरुआत 2000 में की थी, वहीं एन.एस.ई बैंचमार्क निफ्टी 50 इंडैक्स 1996 में पहली बार 1000 के आंकड़े पर पहुंचा था जो 21 साल बाद आज रिकॉर्ड 10000 के आंकड़े को पार कर गया है, दुसरे शब्दों में इन 21 सालों में निवेशको के पैसे 10 गुना बढ़ गए है। 

2004 में पहली बार निफ्टी ने 2000 का आंकड़ा पार किया था, वहीं 2006 में ये 3000 के स्तर पर पहुंच गया। 2006 को भारतीय शेयर बाजार का एतिहासिक साल कहा जाता है। इस साल निफ्टी ने 40 फीसदी तक का रिर्टन दिया था व इसी साल ही ये 4000 के आंकड़े को पार करने में सफल हुआ था। 2007 आते- आते ये पहली बार 5000 के पार चला गया और इसी साल में निफ्टी 6000 का नया रिकार्ड बनाया।
PunjabKesari
मोदी की लहर मेें निफ्टी में आई बहार 
2013 में बीजेपी की तरफ से नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री के उम्मीदावार के तौर पर चुने जाने के बाद भारतीय बाजार में नई मजबूती आई। 2014 में बीजेपी के जीतने के बाद निफ्टी ने नया रिकार्ड कायम किया और 7000 आंकड़े पर पहुंच गया। 2014 में ही निफ्टी ने 8000 का अांकड़ा पार कर लिया।

2013 में मोदी को पी.एम के तौर पर चुने जाने के बाद शेयर बाजार में आई बहार लगातार जारी रही और मार्च 2015 में निफ्टी 9000 के आंकडे को पार करने में सफल हुआ। 2017 की जुलाई में जी.एस.टी लागू होने और मानसून बहतर रहने के चलते निफ्टी ने 25 जुलाई 2017 को पहली बार रिकार्ड 10000 के आंकड़े को पार कर लिया और 10,010.55 पर खुला 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You