दिसंबर में भी अपरिर्वितत रह सकती है RBI की नीतिगत दर: नोमुरा

  • दिसंबर में भी अपरिर्वितत रह सकती है RBI की नीतिगत दर: नोमुरा
You Are HereBusiness
Friday, October 20, 2017-8:38 AM

नई दिल्लीः रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति की अक्तूबर में हुई बैठक की जानकारियों से पता चलता है कि दिसंबर की बैठक में भी नीतिगत दर में कोई कटौती नहीं की जाएगी बशर्ते दूसरी तिमाही की वृद्धि के आंकड़े अप्रत्याशित न हों। जापान की वित्तीय सेवाएं देने वाली कंपनी नोमुरा ने एक रिपोर्ट में कहा, ‘‘चूंकि अर्थव्यवस्था पहली तिमाही में नीचे उतर चुकी है और अक्तूबर में खुदरा महंगाई के तीन प्रतिशत के नीचे रहने की उम्मीद है। जब तक महंगाई चार प्रतिशत से अधिक नहीं हो जाए, हम दिसंबर की बैठक में भी दरों के अपरिर्वितत रहने की उम्मीद करते हैं।’’

नोमुरा ने आगे कहा कि समिति के सदस्य रविन्द्र ढोलकिया दर में कमी का पक्ष लेंगे जबकि माइकल पात्रा इसे स्थिर रखने की बात करेंगे। शेष अन्य चार सदस्यों की राय इस बात पर निर्भर करेगी कि वृद्धि का रुख कैसा होता है। रिपोर्ट में कहा गया, ‘‘ढोलकिया और पात्रा के दृष्टिकोण में मतांतर कायम रहेगा। ढोलकिया काफी ऊंची दरों का हवाला देकर 40 आधार अंकों की कटौती की वकालत करेंगे जबकि पात्रा दर अपरिर्वितत रखने तथा जरूरत पडऩे पर बढ़ा देने के पक्ष में टिके रहेंगे।’’ उल्लेखनीय है कि रिजर्व बैंक ने चार अक्तूबर को हुई बैठक का विवरण कल जारी किया था। मौद्रिक नीति समिति ने उस बैठक में 5-1 से दर अपरिर्वितत रखने का फैसला लिया था। सरकार द्वारा नामांकित सदस्य ढोलकिया 25 आधार अंकों की कटौती के पक्ष में मतदान करने वाले अकले सदस्य थे।     

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You