PU में 200 कैमरे इंस्टाल करने की योजना फिलहाल ठंडे बस्ते में

  • PU में 200 कैमरे इंस्टाल करने की योजना फिलहाल ठंडे बस्ते में
You Are HereChandigarh
Friday, December 08, 2017-9:05 AM

चंडीगढ़(रश्मि) : पंजाब यूनिवर्सिटी में 200 सी.सी.टी.वी. कैमरे इंस्टाल करने की योजना फिलहाल ठंडे बस्ते में है। इस सैशन में पी.यू. प्रबंधन ने अच्छी क्वॅालिटी के  कैमरे कैंपस में इंस्टाल करने का प्रस्ताव बनाया था, लेकिन अब इन कैमरों के लिए बजट का प्रस्ताव बोर्ड ऑफ फाइनांस की 2018 में होने वाली बैठक में आएगा। अगर बैठक में कैमरों के लिए बजट पास हो जाता है तो इन कैमरों को कैंपस में इंस्टाल कर दिया जाएगा। यह कैमरे नाइट विजन वाले होंगे। 

 

जानकारी के मुताबिक इन कैमरों को खरीदने में करीब 50 लाख रुपए तक का खर्चा आएगा। पी.यू. प्रबंधन ने सैशन 2017 में हुए स्टूडैंट काऊंसिल चुनावों से पहले 200 कैमरे खरीदने की योजना बनाई थी। कैंपस में यह कैमरे हाई टैक्नोलॅाजी वाले लगाए जाने थे, लेकिन अब साल खत्म होने को है, अभी तक इन कैमरों के लिए बजट भी पास नहीं हुआ है। इन कैमरों को लगाने के लिए चंडीगढ़ प्रशासन की ओर से भी पी.यू. प्रबंधन को कहा गया है, लेकिन अभी तक इस योजना पर काम शुरू नहीं हो पाया है।

 

यह थी योजना :
इन कैमरों के जरिए सिर्फ स्टूडैंट काऊंसिल के चुनावों के समय ही नहीं बल्कि साल भर पी.यू. कैंपस के हर कोने में होने वाली हर गतिविधि पर नजर रखी जानी थी, जिससे पी.यू. कैंपस में कोई शरारती तत्व किसी घटना को अंजाम देते हैं तो उनकी हर गतिविधि कैमरे में कैद हो सके। 

 

डाटा किया गया तैयार :
पी.यू. कैंपस में किस-किस जगह पर कैमरे नहीं हैं और कहां-कहां पर इनकी जरूरत है, इसके लिए डाटा तैयार किया गया। जिसके बाद 200 कैमरे खरीदने का फैसला किया गया। पी.यू. प्रंबधन का कहना है कि अहम हिस्सों में कैमरे पहले से ही लगे हैं। 

 

कैमरे हो चुके हैं बहुत पुराने :
पी.यू. के बहुत से हिस्सों में आठ से दस साल पुराने कैमरे लगे हैं, जिनमें कैंपस में लड़ाई-झगड़े होने पर शरारती तत्वों व स्टूडैंट की तस्वीरें साफ नहीं आती है, लेकिन फिर भी पी.यू. में पुरानी टेक्नोलॉजी के इन कैमरों से ही काम चलाया जा रहा है।  

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You