पाकिस्तानी मदरसे पर अमेरिका का बैन

  • पाकिस्तानी मदरसे पर अमेरिका का बैन
You Are HereInternational
Thursday, August 22, 2013-10:20 AM

इस्लामाबाद/वाशिंगटन: लश्कर-ए-तैयबा और अल-कायदा के लिए बम बनाने वालों और आत्मघाती हमलावरों के प्रशिक्षण के लिए प्रयुक्त होने वाले एक पाकिस्तानी मदरसे पर अमेरिका ने प्रतिबंध लगा दिया है। पहली बार किसी मदरसे (शिक्षण संस्थान) के खिलाफ ऐसा कदम उठाया गया है। पाकिस्तान के पेशावर शहर में स्थित ‘गंज मदरसा’ पहला शिक्षण संस्थान है जिसे अमेरिका ने आतंकवादी संगठन घोषित किया है। इस मदरसे का आधिकारिक नाम ‘जामिया तालीम-उल-कुरान-वल-हदीथ मदरसा’ है। यह प्रतिबंध किसी भी अमेरिकी को मदरसे के साथ किसी भी प्रकार का व्यावसायिक संबंध रखने से प्रतिबंधित करता है।

अमेरिकी वित्त विभाग ने कहा कि गंज मदरसा का इस्तेमाल अलकायदा, तालिबान और लश्कर-ए-तैयबा के लिए आतंकवादियों की भर्ती करने तथा उन्हें प्रशिक्षित करने में हो रहा है। लश्कर-ए-तैयबा मुंबई में वर्ष 2008 में हुए हमले के लिए जिम्मेदार है। इन हमलों में 166 लोगों की जान गई थी।

अमेरिकी वित्त विभाग का कहना है कि धार्मिक शिक्षा की आड़ में मदरसे में तीन प्रतिबंधित समूहों के लिए छात्रों को बम बनाने और आत्मघाती हमलावर बनने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यह मदरसा इन आतंकी संगठनों को वित्तीय मदद भी मुहैया करा रहा है। पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने इस बात की पुष्टि की है कि मदरसे पर अमेरिकी प्रतिबंध लग गया है ।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You