अमेरिका की भारत में सैन्य विमान उतारने की योजना, सरकार का खंडन

  • अमेरिका की भारत में सैन्य विमान उतारने की योजना, सरकार का खंडन
You Are HereNational
Thursday, August 22, 2013-7:18 PM

नई दिल्ली: अमेरिकी वायु सेना के एक शीर्ष अधिकारी के बयान ने यहां धड़कनें बढ़ा दी हैं जिसमें कहा गया है कि उनका देश रक्षा अड्डों के जरिए चीन को घेरने की अपनी नीति के तहत तिरूवनंतपुरम में अपने एक सैन्य विमान को उतारने की योजना बना रहा है। सरकार ने इस तरह की किसी भी संभावना से इंकार किया है।

जनरल हल्बर्ट ‘हॉक’ कार्लिस्ले ने हाल में नाश्ते के दौरान बैठक में संवाददाताओं से कहा था कि अमेरिकी वायु सेना ‘पिवोट टू एशिया’ नीति के हिस्से के तौर पर एशिया में अपनी मौजूदगी बढ़ाने की योजना बना रही है। इसके पीछे का विचार अमेरिका और सहयोगी बलों के साथ चीन को घेरना है।

फॉरेन पॉलिसी पत्रिका और अन्य मीडिया संस्थानों के अनुसार उन्होंने कहा, ‘‘यह एशिया में अपनी उपस्थिति को विस्तार देने की वायु सेना की योजना की महज शुरूआत है। ऑस्ट्रेलियाई तैनाती के अतिरिक्त वायु सेना सिंगापुर में चंगी ईस्ट हवाई ठिकाने, थाईलैंड में कोराट हवाई ठिकाने, भारत में त्रिवेंद्रम और फिलीपीन में संभवत: कुबी प्वाइंट और प्योर्टो प्रिंसेसा हवाई ठिकाने और इंडोनेशिया और मलेशिया के हवाई ठिकानों पर लड़ाकू विमान भेजेगी।’’ जनरल कार्लिस्ले ने कहा, ‘‘हम अमेरिकी वायु सेना की मौजूदगी को बढ़ाने के लिए प्रशांत क्षेत्र में और कोई ठिकाना बनाने नहीं जा रहे हैं।’’ अमेरिकी वायु सेना के विभिन्न देशों में नौ बड़े अड्डे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You