कभी-कभी ‘अस्थिर’ हो जाती है मंडेला की हालत

  • कभी-कभी ‘अस्थिर’ हो जाती है मंडेला की हालत
You Are HereInternational
Saturday, August 24, 2013-8:18 PM

जोहानिसबर्ग: दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति कार्यालय ने आज कहा कि रंगभेद विरोधी नेता नेल्सन मंडेला की हालत कभी-कभी ‘अस्थिर’ हो जाती है, लेकिन वे बीमारी के खिलाफ संघर्ष में ‘महान जिजीविषा’ दिखा रहे हैं।

राष्ट्रपति कार्यालय ने कहा, ‘‘हालांकि कभी-कभी उनकी हालत अस्थिर हो जाती है, डॉक्टरों का कहना है कि पूर्व राष्ट्रपति बहुत जीवट वाले हैं और चिकित्सकीय देखभाल उनकी हालत में सुधार हो रहा है।’’

95 वर्षीय नोबेल शांति पुरस्कार विजेता के फेफड़े में संक्रमण होने के बाद उन्हेंं आठ जून को प्रिटोरिया के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बयान में कहा गया है कि मंडेला अभी भी प्रिटोरिया के अस्पताल में हैं, उनकी हालत गंभीर लेकिन स्थिर बनी हुई है।

 बयान के अनुसार, ‘‘डॉक्टर उनकी हालत में सुधार लाने और उसमें बेहतरी के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं।’’ राष्ट्रपति जैकब जुमा ने दक्षिण अफ्रीका के लोगों ने कहा है कि वे मदीबा के लिए प्रार्थनाएं जारी रखें और उन्हें हमेशा अपने विचारों में स्थान दें। मंडेला को प्यार से उनके कबीले के नाम ‘मदीबा’ से जाना जाता है।

मंडेला जब रोबेन द्वीप पर राजनीतिक कैदी थे, उसी समय से उन्हें फेंफड़े में संक्रमण की समस्या है। कारावास के दौरान उन्हें क्षय रोग भी हुआ था ।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You