केन्या आतंकी हमला: सात भारतीयों के मरने की आशंका

  • केन्या आतंकी हमला: सात भारतीयों के मरने की आशंका
You Are HereInternational
Monday, September 23, 2013-11:29 AM

केन्या: केन्या की राजधानी नैरोबी के मॉल में सोमाली आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई लगातार जारी है। खबर है कि इस मॉल के अधिकांश हिस्से को केन्या की सेना ने आतंकियों से मुक्त करा लिया है और इस्लामी बंदूकधारियों द्वारा बंधक बनाए गए अधिकतर लोगों को छुड़ा लिया गया है। खबर यह भी है कि आतंकियों से लोहा लेने में इस्राइली कमांडो दस्ते की भी मदद ली गई है।

केन्या के एक शॉपिंग मॉल में हुए आतंकवादी हमले में सात भारतीयों के मरने की आशंका जताई जा रही है। बताया जा रहा है कि इसमें से अधिकतर गुजरात के रहने वाले हैं, हालांकि आधिकारिक रूप से अभी सिर्फ तीन भारतीयों के मरने की पुष्टि हुई है। इस शॉपिंग माल में हुए आतंकी हमले में मरने वाले लोगों की तादाद बढ़कर 68 हो गई है जबकि 175 से अधिक लोग घायल हैं।

गुजरात के भुज की एक 16 साल की बच्ची नेहा की मौत हो गई। इसके अलावा चेन्नई के आईटी इंजीनियर श्रीधर नटराजन और एक आठ साल के बच्चे परमांशु जैन की मौत हुई है। परमांशु के पिता नैरोबी में बैंक ऑफ बड़ोदा के मैनेजर हैं। श्रीधर नटराजन की पत्नी मंजुला श्रीधर की हालत गंभीर है। इसके अलावा मुक्ता जैन, कुमारी पूर्वी और नटराजन रामचंद्रन जख्मी बताए जा रहे हैं।
केन्या की सेना के मुताबिक मॉल परिसर का अधिकांश हिस्सा अब सुरक्षित है। इस हमले की जिम्मेदारी अल-शबाब नाम के संगठन ने ली है, जो अलकायदा से जुड़ा हुआ बताया जाता है।

गौरतलब है कि केन्या की राजधानी नैरोबी में मौजूद वेस्टगेट का ये मॉल शनिवार को गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा। शनिवार दोपहर जब मॉल में करीब 1 हजार लोग खरीदारी कर रहे थे। तभी जिहाद के नाम पर खून बहाने वालों का एक दस्ता मॉल में घुसा और फर्श पर लाशों के ढेर लगा दिए। इस हमले की चपेट में भारतीय नागरिक भी आए हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You