रासायनिक हथियार मामलाः सीरिया कर रहा है सहयोग

  • रासायनिक हथियार मामलाः सीरिया कर रहा है सहयोग
You Are HereInternational
Thursday, October 10, 2013-7:28 AM

हेगः वैश्विक रासायनिक हथियार निगरानी संस्था रासायनिक शस्त्र निषेध संगठन (ओपीसीडब्ल्यू) ने आज कहा कि सीरिया में विध्वंसक हथियारों की प्रारंभिक जांच के मामले में संबंधित अधिकारी सहयोग कर रहे हैं। ओपीसीडब्ल्य के महानिदेशक अहमेट उजुम्कू ने यहां बताया कि सीरिया में आने वाले दिनों में शस्त्र विशेषज्ञ तकरीबन 20 स्थानों का दौरा करेंगे।

उन्होंने कहा कि अगर अंतर्राष्ट्रीय सहयोग जारी रहा जो सीरिया में किए गए रासायनिक हमलों की वास्तविकता का खुलासा करेंगे। सीरिया में राष्ट्रपति के खिलाफ संघर्ष चल रहा है और अब तक इसमें एक लाख से अधिक लोग मारे गए हैं और लाखों बेघर हुए हैं। अगस्त में रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल में सैकडों लोगों की मौत के बाद राष्ट्रपति के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय दबाव अचानक तेज हो गया। अमेरिका ने उस पर हमले की भी योजना बनी ली थी लेकिन इसी बीच सीरिया अपने हथियारों को नष्ट करने पर सहमत हो गया।

ओपीसीडब्ल्यू  ने कहा कि यह सीरिया की रचनात्मक शुरुआत है। उन्होंने कहा कि सीरिया के पास नवंबर तक सभी उत्पादन केंद्रों और जैविक हथियार नष्ट करने का समय है। इसके लिए वहां निरीक्षकों की संख्या को बढाया जा सकता है। इससे पहले संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने सुरक्षा परिषद को बताया कि विश्व संस्था के विशेषग्यों का सौ सदस्यीय दल सीरिया में रासायनिक शस्त्रों को नष्ट करने के काम में लगा हुआ है और यह दल अपने काम में संयुक्त राष्ट्र के दूसरे देशों की भी सहायता ले सकता है।

रासायनिक विशेषग्यों के अग्रिम दल ने रविवार को इन शस्त्रों को नष्ट किए जाने की निगरानी की। इन शस्त्रों को नष्ट किए जाने का काम सीरियाई सैनिक कर रहे हैं। यह काम 2014 के मध्य तक चलेगा। श्री मून ने सुरक्षा परिषद को पत्र लिखकर बताया है कि सीरिया के रासायनिक शस्त्रों को नष्ट किए जाने का काम तीन चरणों में पूरा किया जायेगा। तीसरे चरण का काम बहुत ही मुश्किल होगा। अमेरिका और रूस सीरिया में रासायनिक हथियारों को नष्ट करने के तरीके पर सहमत हो गये है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You