प्रधानमंत्री की यात्रा के दौरान वीजा समझौते को लेकर चीन आशान्वित

  • प्रधानमंत्री की यात्रा के दौरान वीजा समझौते को लेकर चीन आशान्वित
You Are HereInternational
Friday, October 18, 2013-11:38 PM

बीजिंग: प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अगले सप्ताह की यात्रा के दौरान सरल वीजा समझौते पर बात आगे बढऩे को लेकर चीन आशान्वित है हालांकि भारत ने इस मुद्दे पर फैसले को अभी टाल दिया है। चीनी नागरिकों के लिए वीजा सरल किए जाने की संभावनाओं के संबंध में किए गए प्रश्न के उत्तर में चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा, ‘‘वीजा सरलीकरण व्यक्तिगत आदान-प्रदान और आर्थिक तथा व्यापारिक सहयोग को बढ़ावा देगा।’’

हुआ ने कहा, ‘‘यदि हम समझौते पर हस्ताक्षर करते हैं, हम समझौते का स्वागत करते हैं। संबंधित अधिकारी लगातार संपर्क में बने हुए हैं। सिंह की यात्रा के दौरान दोनों पक्ष समझौते पर हस्ताक्षर करेंगे या नहीं इस संबंध में मैं आपको विस्तार से नहीं बता सकती। हम संबंधित कार्यों पर पैनी नजर रखेंगे।’’ हुआ ने कहा कि 22 अक्तूबर से शुरू हो रही प्रधानमंत्री की तीन दिवसीय यात्रा के दौरान दोनों पक्षों के बीच विभिन्न मामलों में द्विपक्षीय सहयोग समझौतों पर हस्ताक्षर होंगे।

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की यात्रा से पहले जब दोनों देश आर्थिक और व्यापारिक संबंधों को मजबूत बनाने के लिए गंभीर वार्ता में जुटे हुए हैं, वीजा के सरलीकरण का मुद्दा भी दोनों देशों की बातचीत के एजेंडे में शामिल है। हालांकि भारतीय कैबिनेट ने चीनी नागरिकों और विशेष रूप से व्यापारिक कारणों से आने वालों के लिए वीजा नियम सरल करने के संबंध में कोई निर्णय नहीं लिया। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि प्रधानमंत्री के इस दौरे पर यह समझौता होगा या नहीं क्योंकि किसी भी दूसरे देश के साथ समझौते पर हस्ताक्षर करने के पहले उसके लिए कैबिनेट की मंजूरी अनिवार्य है।

कैबिनेट के प्रस्ताव में वीजा नियमों को सरल करने की बात इसलिए की गई है क्योंकि दोनों देशों के बीच व्यापार काफी बढ़ गया है और इस वजह से चीनी नागरिकों की भारत यात्रा की संख्या में भी वृद्धि हुई है। ये यात्री मुख्य रूप से सूचना प्रौद्योगिकी और ढांचागत क्षेत्र से ताल्लुक रखते हैं। वास्तविक निंयत्रण रेखा पर चीनी घुसपैठ के कारण उत्पन्न होने वाली समस्याओं को सुलझाने के लिए भारत-चीन के बीच ‘बॉर्डर डिफेंस कोऑपरेशन एग्रीमेंट’ पर हस्ताक्षर होने के संबंध में पूछने पर चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा कि दोनों पक्ष इस संबंध में लगातार संपर्क में हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You