एक ऐसा देश जहां हर महीने 485 लोगों को गंवानी पड़ती है अपनी जान

  • एक ऐसा देश जहां हर महीने 485 लोगों को गंवानी पड़ती है अपनी जान
You Are HereInternational
Wednesday, October 30, 2013-12:55 AM

काबुलः अफगानिस्तान में जारी हिंसा के वर्तमान दौर में हर महीने 485 लोगों को अपनी जान गंवानी पड रही है। इसमें सबसे ज्यादा पुलिसकर्मी है। देश के उपगृहमंत्री जनरल सलीम एहसास ने बताया कि इस साल 27 अप्रैल को तालिबान ने हमलों के नए दौर की शुरुआत की थी।

इन छह महीने में 1704 सीधे हमले, 50 आत्मघाती हमले और 6604 आपरेशन हुए जिनमें 2910 लोगों की जान गई है। मृतकों में सबसे ज्यादा 1273 नेशनल पुलिस के जवान, 779 स्थानीय पुलिस के जवान और 858 आम नागरिक है। इसके अलावा साढे पांच हजार के लगभग पुलिसकर्मी और आम नागरिक इन हमलों में घायल हो चुके है। अफगानिस्तान के रक्षा मंत्रालय और सेना ने आतंकवादी हमलों में मारे गए सैनिकों के आंकडे जारी करने से मना कर दिया है, लेकिन उन्होंने स्वीकार स्वीकार किया है कि यह संख्या बढी है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You