मुहर्रम से पूर्व कराची में हिंसा बढ़ी, 18 की मौत

  • मुहर्रम से पूर्व कराची में हिंसा बढ़ी, 18 की मौत
You Are HereInternational
Wednesday, November 06, 2013-2:09 AM

कराची: पाकिस्तान के सबसे बड़े शहर कराची में जातीय हिंसा में 11 लोगों की मौत हो गई है, जिसके साथ पिछले दो दिनों में इस प्रकार की हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 18 तक पहुंच गई है। मुहर्रम के पवित्र महीने में शहर में हालात नियंत्रण से बाहर होते जा रहे हैं।

मारे गए लोगों में पांच शिया मुस्लिम, अहले सुन्नत वल जमात के छह कार्यकर्ता, पीएमएल एन का एक कौंसिलिर तथा मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट का एक कार्यकर्ता भी शामिल है। कल की हिंसा में दो डाक्टरों समेत शियाओं को गोली मार दी गई। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि ये हत्याएं जातीय हिंसा से संबंधित प्रतीत होती हैं।   

इस बीच, हालिया हिंसा के मद्देनजर सिंध सरकार ने शहर में मोहर्रम के नौंवे और दसवें दिन सैनिकों को तैनात किए जाने की अपील की है। पंजाब, बलूचिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा प्रांतों में मोहर्रम के महीने में धारा 144 लागू कर दी गई है, लेकिन सिंध सरकार अलग तरीके से तथा कड़ाई से काम कर रही है। बलूचिस्तान प्रांत में सुरक्षा के लिए करीब 12 हजार सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है। यहां हाल के वर्षों में अल्पसंख्यक शिया हाजरा समुदाय पर कई बार जातीय हमले हुए हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You