रूस ने लगाई गर्भपात संबंधी विज्ञापनों पर रोक

  • रूस ने लगाई गर्भपात संबंधी विज्ञापनों पर रोक
You Are HereInternational
Wednesday, November 27, 2013-4:49 PM

मास्को: रूस में जनसंख्या में आ रहे बदलाव के बीच गर्भपात संबंधी विज्ञापनों पर रोक लगा दी गई है। राष्ट्रपति  ने इस संबंध में नए कानून पर मुहर लगा दी है, हालांकि महिला अधिकारों से संबंधित कई संगठनों ने नए कानून पर विरोध जताया है। जिस समय सोवियत संघ अस्तित्व में था, उस समय से रूस में गर्भपात वैध है। लेकिन वर्तमान नीति निर्माताओं का मानना है कि इस तरह की चीजों को देश मे मिली मंजूरी के कारण जननांकीय परिदृश्य काफी हद तक प्रभावित हुआ है।

इससे पहले रूस के रूढि़वादी चर्च के आधिकारिक प्रतिनिधियों ने भी गर्भपात और किराए की कोख को देश में मिली मंजूरी पर कड़ा विरोध व्यक्त किया था। रूस में निचले सदन 'फेडरल असैम्बली आफ रशिया' की समिति की अध्यक्ष येलेना मिजुलिना ने भी इस पर गंभीर चिंता जताई थी। मिजुलिना ने कहा कि रूसी समुदाय को गर्भपात और किराए की कोख जैसी चीजों को सिरे से नकार देना चाहिए, क्योंकि अगर ऐसी चीजें जारी रहीं तो संसार के जननांकीय मानचित्र से रूसी जनसंख्या के ही गायब हो जाने का खतरा खड़ा हो जाएगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You