यहां लेज़बियन लड़कियों का होता है रेप

  • यहां लेज़बियन लड़कियों का होता है रेप
You Are HereInternational
Monday, January 06, 2014-5:26 PM

जोहानिसबर्ग: दक्षिण अफ्रीका के जोहानिसबग की म्वुलेनी फाना ‘लेज़़बियन’ है। फाना को अपने ‘लेज़़बियन’ होने की इतनी बड़ी कीमत चुकानी पड़ी की शायद उसे अपनी जान से भी हाथ धोना पड़ता, परंतु खुशकिस्मती से वह बच गई। परंतु फाना के साथ जो हुआ वह किसी दर्दनाक घटना से कम नही था। उसके ‘लेज़़बियन’ होने के कारण उसके साथ रेप किया गया।

जानकारी के मुताबिक, बीते दिनों जोहानिसबर्ग में जब म्वुलेनी फाना फुटबॉल खेल कर लौट रही थीं, तो चार आदमियों ने उन्हें घेर लिया और उसे उठाकर वापस फुटबॉल ग्राउंड ले गए। इसके बाद उन लोगों ने बारी-बारी से उसके साथ बलात्कार किया। लड़की के विरोध पर उसे बुरी तरह मारा-पीटा गया और उसे मरने के लिए छोड़ दिया। फाना के मुताबिक, बलात्कारी जाते-जाते कह गए, हमने जो तुम्हारे साथ किया वह बिल्कुल सही था। इससे तुम्हें अहसास होगा कि असल औरत क्या होती है और उसे कैसे रहना चाहिए। आज के बाद तुम जैसी थी, वैसी नहीं रहोगी बल्कि एक औरत की तरह पेश आओगी।

आपको बतां दे कि दक्षिण अफ्रीका में इससे पहले जिन लेज़बियन लड़कियों के साथ ऐसा हुआ है, उनमें से ज्यादातर जिंदा ही नहीं बच पाईं। यहां पर इस तरह के रेप को 'करेक्टिव रेप' कहा जा रहा है। बलात्कारियों का मानना होता है कि रेप के बाद होमोसेक्शुअल (समलैंगिक) व्यक्ति हेट्रोसेक्शुअल (सामान्य) हो जाएगा और फिर इसके बाद से वह अपने विपरीत लिंग के साथ ही रिश्ते रखेगा।

वही, संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया में सबसे ज्यादा रेप दक्षिण अफ्रीका में होते हैं। आंकड़ों के मुताबिक, इस देश में एक साल में 5 लाख यानी हर 17 सेकेंड में एक रेप होता है। यही वजह है कि दक्षिण अफ्रीका को दुनिया का रेप कैपिटल कहा जाता है। हिंसा विरोधी एनजीओ सीआईईटी के मुताबिक रेप से पीड़ित लोगों में 20 फीसदी पुरुष होते हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You