यौन उत्पीडऩ मामले में अमेरिकी सैन्य अकादमियों की निराली समस्या

  • यौन उत्पीडऩ मामले में अमेरिकी सैन्य अकादमियों की निराली समस्या
You Are HereInternational
Saturday, January 11, 2014-12:49 PM

वाशिंगटन: तीन अमेरिकी सैन्य अकादमियों में से दो अकादमियों में यौन उत्पीडऩ के मामलों में कमी आई है, लेकिन छात्रों को अभी भी यह डर है कि यदि वे किसी भी घटना की शिकायत करते हैं तो उन्हें सामाजिक प्रतिकार का सामना करना पड़ेगा।

पेंटागन की रिपोर्ट के अनुसार, छात्रों का यह भी कहना है कि वे कुछ कैडेटों और एथलीटों के कामोत्तेजक आचरण से दूर ही रहना चाहते हैं। हालांकि ऐसे कैडेटों की संख्या कम है। छात्र इस बात पर जोर देते हैं कि अकादमियों का माहौल सुधारने के लिए कमांडरों की जरूरत है।

यौन उत्पीडऩ निरोधक एवं प्रतिक्रिया कार्यालय के निदेशक मेजर जनरल जेफ्री स्नो ने कहा कि छात्रों का मानना है कि उनके नेता यौन उत्पीडऩ की घटनाओं को गंभीरता से लेते हैं लेकिन ‘‘उन्होंने शिकायत करने से रोकने के लिए गहरे दबाव की भी बात कही। यह अच्छी बात नहीं है।’’

स्नो ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘यौन उत्पीडऩ एक अपराध है और हमारी सेना की तरह ही अकादमियों में भी इसके लिए कोई जगह नहीं है।’’ जनरल ने अकादमियों में यौन उत्पीडऩ विषय पर वार्षिक रिपोर्ट के नतीजों को पेश किया। अमेरिकी सेना में यौन उत्पीडऩ की घटनाओं में वृद्धि के कारण बढ़ी चिंताओं के चलते इन अकादमियों पर नजर रखी जा रही थी।
  
रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिकी सैन्य अकादमी और अमेरिकी वायु सेना अकादमी में 2012-13 के अकादमिक वर्ष में यौन उत्पीडऩ की घटनाओं में कमी आई है। लेकिन अमेरिकी नौसेना अकादमी में ऐसे मामलों की संख्या मे मामूली वृद्धि देखी गई। वर्ष 2011-12 में ऐसे मामलों की संख्या 13 थी, जो वर्ष 2012-13 में बढ़कर 15 हो गई।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You