भारत, चीन ने मित्रवत आदान-प्रदान वर्ष आरंभ किया

  • भारत, चीन ने मित्रवत आदान-प्रदान वर्ष आरंभ किया
You Are HereInternational
Friday, January 24, 2014-10:16 PM

बीजिंग: भारत और चीन ने आज यहां गणतंत्र दिवस के रंगारंग कार्यक्रम के दौरान मित्रवत आदान-प्रदान वर्ष आरंभ किया। समारोह में शामिल हुए चीन के उपराष्ट्रपति ली युवानचाओ ने कहा कि बीजिंग रणनीतिक संबंधों को नई उंचाई पर ले जाने को प्रतिबद्ध है। अधिकारियों ने बताया कि पहली बार चीन ने उपराष्ट्रपति जैसे बड़े पद वाले नेता को समारोह में शामिल होने के लिए भेजा था। यह भारत के साथ बढ़ते संबंधों के महत्व को दिखाता है। इससे पहले आयोजित होने वाले गणतत्र दिवस समारोहों में उप विदेश मंत्री स्तर के अधिकारी शामिल होते थे।

उपराष्ट्रपति ली ने कहा, ‘‘रणनीतिक पारस्परिक विश्वास को मजबूत करने, मित्रवत आदान-प्रदान और सहयोग को बढ़ाने, इतिहास के पन्नों से छूटे हुए मुद्दों को उचित तरीके से सुलझाने और महत्वपूर्ण और क्षेत्रीय मुद्दों पर सहयोग को मजबूत करने की दिशा में बीजिंग भारत के साथ मिलकर संयुक्त प्रयास करेगा और अपनी रणनीतिक साझेदारी को नयी उंचाइयों पर ले जाएगा।’’

नवनियुक्त भारतीय राजदूत अशोक के. कांथ की ओर से आयोजित समारोह में ली ने मित्रवत आदान-प्रदान वर्ष का औपचारिक रूप से शुभारंभ किया। राजदूत ने अपने संबोधन में 2013 को भारत-चीन संबंधों के लिए बहुत बेहतर बताया। उन्होंने इस मजबूत नींव पर दोनों देशों के रिश्ते को और बेहतर बनाने की आशा जताई।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You