स्नोडेन ने कहा, 'मेरी जान को काफी खतरा है'

  • स्नोडेन ने कहा,  'मेरी जान को काफी खतरा है'
You Are HereInternational
Monday, January 27, 2014-9:47 AM

बर्लिन: अमेरिका द्वारा भगौड़ा घोषित पूर्व एनएसए एजेंट एडवर्ड स्नोडेन ने माना है कि उसकी जान को काफी खतरा है। अमेरिका के खुफिया निगरानी कार्यक्रम 'प्रिज्म' का खुलासा करने वाले स्नोडेन ने जर्मन टेलीविजन चैनल 'एआरडी' पर कल एक साक्षात्कार में कहा कि उसकी जान को 'काफी खतरा' है। इसके बावजूद वह ठीक से सो पाता है, क्योंकि उसे विश्वास है कि उसने एनएसए के कार्यक्रम के बारे में लोगों को बताकर कोई गलत काम नहीं किया है।

उसने कहा, "मैं अब भी जिंदा हूं और ठीक से सोता हूं क्योंकि मैंने जो किया वह ठीक था।" वह एक अमेरिकी वेबसाइट पर आई उन खबरों पर प्रतिक्रिया दे रहा था, जिसमें कहा गया था कि अमेरिकी अधिकारी उसकी हत्या कराना चाहते हैं। टीवी चैनल का कहना है कि फिलहाल रूस में शरणार्थी के तौर पर रहने वाले स्नोडेन के साथ यह साक्षात्कार मास्को में फिल्माया गया था।

साक्षात्कार में स्नोडेन ने कहा कि उसे लगाता है कि एनएसए चांसलर एंजेला मर्केल के अलावा जर्मनी के अन्य महत्वपूर्ण नेताओं कर रहा है। स्नोडेन ने कहा, "यह स्वाभाविक नहीं लगता कि जो जर्मनी की सरकार की जासूसी कर रहा है वह सिर्फ मर्केल की जासूसी करेगा, अन्य अधिकारियों और मंत्रियों की नहीं। स्नोडेन ने आरोप लगाया कि अमेरिका दुनिया भर के उद्योगों और व्यापारिक प्रतिष्ठानों की भी जासूसी कर रहा है।"
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You