दिमागी सर्जरी के लिए बर्फ में दस किलोमीटर तक चला एक डॉक्टर

  • दिमागी सर्जरी के लिए बर्फ में दस किलोमीटर तक चला एक डॉक्टर
You Are HereInternational
Thursday, January 30, 2014-3:46 PM

ह्यूस्टन: जहां चाह, वहां राह की सदियों पुरानी कहावत को एक अमेरिकी सर्जन ने उस समय सच कर दिया, जब वह एक जीवन रक्षक दिमागी सर्जरी करने के लिए बर्फ में लगभग 10 किलोमीटर पैदल चलकर गया। बर्मिंघम स्थित ट्रिनिटी मेडिकल सेंटर में मौजूद एकमात्र ब्रेन सर्जन डॉक्टर जेंको हृन्क्यिू उस समय अस्पताल में थे, जब उन्हें एक दूसरे अस्पताल से किसी अप्रत्याशित और जीवन रक्षक दिमागी सर्जरी के बुलवाया गया।

खबरों के मुताबिक, हृन्क्यिू ने अपने वाहन से वहां जाने की कोशिश की, लेकिन अचानक आए बर्फीले तूफान के कारण यातायात जाम हो गया। वे कुछ ब्लॉक पार ही गए होंगे कि उन्हें यह अहसास हो गया कि वे आगे नहीं जा पाएंगे। इसके बाद उन्होंने अस्पताल तक की 10 किलोमीटर की दूरी पैदल चलकर पार की और वहां जाकर एक बेहद दर्दनाक दिमागी चोट से जूझ रहे मरीज की सर्जरी की।

नर्स स्टीव डेविस के अनुसार, हृन्क्यिू ने फोन करके कहा था, ‘‘मैं पैदल चल रहा हूं।’’ डेविस ने कहा कि अस्पताल पहुंचकर उन्होंने मरीज के परिवार से बात की और सर्जरी की। अस्पताल के सूत्रों ने कहा, ‘‘सर्जरी न होने की स्थिति में मरीज की जान जाने की आशंका बहुत ज्यादा थी।’’ मंगलवार को दक्षिण में बर्फ को हटाए जाने के बावजूद सड़क की स्थितियां खराब थीं और भारी जाम लगा हुआ था। कई लोग अपनी कारों को सड़कों पर छोड़कर पास की दुकानों में घुस गए थे।

 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You