‘टीटीपी के पास 500 महिला आत्मघाती हमलावरो की पूरी टोली’

  • ‘टीटीपी के पास 500 महिला आत्मघाती हमलावरो की पूरी टोली’
You Are HerePakistan
Thursday, February 13, 2014-4:34 PM

इस्लाामाबाद: पाकिस्ताान के कबायली क्षेत्रो में सक्रिय आतंकवादी संगठन तहरीक ए तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि तालिबान अफगानिस्तान मे कडे शरिया कानून लाने को प्रतिबद्ध है और उनके पास 500 महिला आत्मघाती हमलावरो की पूरी टोली है जो किसी भी हमले को अंजाम देने को तत्पर है। ब्लूमबर्ग न्यूज को दिए साक्षात्कार में टीटीपी के नेता मौलाना अब्दुल अजीज ने यह जानकारी देते हुए सनसनी पैला दी। उन्होने कहा कि तालिबान को सरकार के साथ शांति समझौते को अंतिम रूप देने में
कोई जल्दवाजी नहीं है।

पाकिस्तान के उत्तरी वजीरिस्तान और अफगानिस्तान के सीमावर्ती इलाको में इस संगठन का व्यापक प्रभाव है। पाकिस्तान के लाल मस्जिद पर हुई सैन्य कार्रवायी के दौरान मौलाना अब्दुल अजीज को गिरफ्तार किया गया था, टीटीपी के कट्टरपंथी धडे से संम्बद्ध रखने वाले इस नेता ने अमेरिकी फौजो का चेतावनी देते हुए की। कि अगर वे अपनी सैनिक और वायुसैनिक कार्रवायी को नहीं रोकत है तो तालिबान अपने महिला आात्मघाती दस्तो को जंग ए मैदान मे उतार अमेरिका को सबक सिखाएगा। तालिबान के इस नेता के  दावों पर संदेह जताते हुए पाकिस्तान इंस्टीच्यूट आफ पीस स्टीज के निदेशक आमिर राणा ने कहा कि महिला आत्मघाती हमलावरों की यह संख्या भ्रम उत्पन्न करता है और इसे बढा चढाकर के पेश किया गया है।

उन्होने टीटीपी के इस कदम को छद्म युद्ध  करार देते हुए कहा कि इससे सरकार के सााथ चल रही बातचीत और शांति प्रक्रिया बाधित होगी। तालिबान के इस नेता ने कहा  कि आप कहा कि यह उम्मीद नहीं कर सकते है कि अफगानिस्तान में मौजूद अमेरिकी सैनिकों को ये आत्मघाती हमलावर किस कदर नुकसान पहुंचा सकते है। इससे पहले तुर्की के दोरे पर गये पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कल उम्मीद जताई थी कि टीटीपी के बातचीत उद्श्येपरक सिद्ध होगा।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You