'भारत-अमेरिका रिश्तों के रूपांतरण का आधार है भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक'

  • 'भारत-अमेरिका रिश्तों के रूपांतरण का आधार है भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक'
You Are HereInternational
Sunday, February 16, 2014-4:37 PM

वॉशिंगटन: अमेरिका में भारत के नए राजदूत एस. जयशंकर ने कहा है कि पिछले कुछ दशक के दौरान अमेरिका के साथ भारत के रिश्तों में जो ‘‘नाटकीय’’ रूपांतरण हुआ है उसका आधार छोटा सही, लेकिन भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिकों का शक्तिशाली समूह है।

जयशंकर ने कहा, ‘‘भारत-अमेरिका रिश्ते नाटकीय रूप से बदले हैं। जब कोई हमारे रिश्तों के रूपांतरण के बारे में सोचता है, इसे दोनों पक्षों की अच्छी कूटनीति से जोडऩा स्वाभाविक है, लेकिन मेरे हिसाब से, इस रिश्ते के रूपांतरण का आधार भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिकों का समुदाय है।’’

जयशंकर ने अपने सम्मान में नेशनल काउंसिल ऑफ एशियन इंडियन ऐसोसिएशन्स की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में ‘ग्रेटर वॉशिंगटन एरिया’ के भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिकों को संबोधित करते हुए सुदूर अमेरिका में जीवन के लगभग सभी क्षेत्रों में अपने लिए एक मुकाम बनाने के लिए उनकी तारीफ की।

उन्होंने कहा, ‘‘जब कोई अमेरिकी भारत के बारे में सोचता है, तो जो छवि लोगों के जेहन में आता है वह भारतीय मूल के अमेरिकी पड़ोसी की, कार्यस्थल पर भारतीय मूल के अमेरिकी सहकर्मी की होती है, उनकी होती है जो उन्हें सेवाएं प्रदान करते हैं। यह समुदाय है जिसे सर्वाधिक शिक्षित समुदाय, सबसे ज्यादा आमदनी वाले समुदाय और असाधारण जिम्मेदार समुदाय है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You