शांंति वार्ता को आगे बढ़ाने के लिए हिंसा रोके तालिबान: पाकिस्तान

  • शांंति वार्ता को आगे बढ़ाने के लिए हिंसा रोके तालिबान: पाकिस्तान
You Are HereInternational
Wednesday, February 19, 2014-12:03 AM

इस्लामाबाद : पाकिस्तान सरकार ने आज कहा कि अगर तालिबान ने हिंसा का रास्ता नहीं छोड़ा तो शांति वार्ता आगे नहीं बढ़ पाएगी। कल तालिबान ने 23 सैनिकों की हत्या कर दी थी। सरकार ने कहा कि आतंकवादियों को परिणामोन्मुखी और सार्थक बातचीत के लिए हिंसा को रोकनी चाहिए। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान के अनुसार सरकारी पक्ष के वार्ताकारों ने कहा कि किसी ठोस कदम के बिना बातचीत में प्रगति नहीं हो सकती और उन्होंने तालिबान से कहा कि वह बिना शर्त संघर्ष विराम घोषित करे तथा शांति के प्रति अपनी प्रतिबद्धता सुनिश्चित करे।

 तालिबान ने कल अर्धसैनिक बलों 23 कर्मियों को मौत के घाट उतार दिया था। इन लोगों को साल 2010 से बंधक बनाकर रखा गया था। सरकारी रेडियो पाकिस्तान ने खबर दी कि सरकारी वार्ताकारों ने कल तालिबान की ओर से नामित वार्ताकारों से मुलाकात करने से इंकार कर दिया था। वार्ताकारों ने प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को बातचीत के संदर्भ में ब्यौरा दिया है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You