सिंगापुर में जालसाजी के आरोपी 7 भारतीयों को कैद

  • सिंगापुर में जालसाजी के आरोपी 7 भारतीयों को कैद
You Are HereInternational
Sunday, February 23, 2014-2:47 AM

सिंगापुर: सिंगापुर का वर्क पास हासिल करने के लिए नकली शैक्षणिक प्रमाण पत्र जमा कराने के दोषी पाए गए सात भारतीयों सहित 25 विदेशी कर्मचारियों को चार से लेकर 12 सप्ताह तक की कैद की सजा सुनाई गई है। टुडे ऑनलाइन के मुताबिक, 25 विदेशी कर्मचारियों में से 16 म्यांमार के, दो फिलीपींस के हैं। सजा पाने वालों में 21 पुरुष और चार महिलाएं शामिल हैं।

प्रतिवादियों ने अपने गृह देश में जाली प्रमाण पत्र हासिल किया और दो नवंबर, 2012 व सात जून, 2013 के बीच वर्क पास हासिल करने के लिए आवेदन दिया। सिंगापुर के श्रमशक्ति मंत्रालय ने कहा है कि 20 आरोपियों को 20 एस पास (सिंगापुर में औसत कुशल विदेशियों को दिया जाने वाला वर्क परमिट) और पांच को रोजगार पास (ऐसा व्यक्ति जिसके पास सिंगापुर में नौकरी करने का अवसर मिल गया हो) जारी किया गया। ये उनके फर्जी शैक्षणिक प्रमाण पत्र पर जारी किए गए। मंत्रालय ने कहा है कि उसने बीते नवंबर महीने और दिसंबर 2013 के बीच जांच शुरू की और संबंधित संस्थानों एवं विदेशी सरकारों के विभागों से जांच के दौरान पाया गया कि सौंपे गए प्रमाण पत्र जाली हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You