लापता मलेशियाई विमान की खोज में चीन के 20 उपग्रह

  • लापता मलेशियाई विमान की खोज में चीन के 20 उपग्रह
You Are HereInternational
Tuesday, March 18, 2014-4:21 PM

बीजिंग: चीन ने आज कहा कि उसके 20 उपग्रह मलेशिया के लापता विमान की तलाशी के काम में लगे हैं। विमान में पांच भारतीयों समेत 239यात्री सवार थे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता होंग लेई ने नियमित ब्रीफिंग में यह जानकारी दी। देश की मीडिया ने इससे पहले बताया था कि चीन ने अपनी सीमा में मलेशिया एअरलाइन्स के हाल में लापता विमान की तलाशी शुरू की थी। इस क्षेत्र में वह उत्तरी गलियारा भी आता है, जहां से विमान को गुजरना था। करीब एक हफ्ते पहले लापता हुए विमान का अब तक कोई सुराग नहीं मिल सका है। भारत समेत करीब 14 देश इसे तलाश कर रहे हैं। जांचकर्ताओं का मानना है कि विमान को मोडकर दूसरी दिशा में ले जाया गया था।

- चीन ने अपने नागरिकों के आतंकी संबंधों की संभावना खारिज की

चीन ने आज मलेशिया एयरलाइंस के लापता विमान में सवार अपने नागरिकों के विमान अपहरण की कोशिश में शामिल होने की संभावना खारिज कर दी लेकिन उत्तरी कॉरिडोर के रास्ते विमान के मध्य एशिया की तरफ उडऩे की संभावनाओं के सामने आने के बाद अपने तिब्बत और जिनजियांग क्षेत्रों में तलाशी अभियान शुरू का दिया। समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने मलेशिया में चीन के राजदूत हुआंग हुईकांग के हवाले से कहा कि चीन ने मलेशिया एयरलाइंस के लापता विमान का पता करने के लिए

उत्तरी कॉरिडोर से लगे अपने क्षेत्र में तलाशी शुरू कर दी है। भारत, पाकिस्तान और क्षेत्र के कई दूसरे देशों द्वारा विमान के अपने क्षेत्र से होकर कजाकस्तान और तुर्कमेनिस्तान की तरफ जाने की संभावनाएं खारिज करने के बाद चीन ने यह तलाशी शुरू की। नवीनतम जानकारी के आधार पर तलाशी के नए इलाकों में कजाकस्तान एवं तुर्कमेनिस्तान की सीमा से लेकर उत्तरी थाईलैंड तक फैले उत्तरी कॉरिडोर और दक्षिणी कॉरिडोर में इंडानेशिया से दक्षिणी हिन्द महासागर का क्षेत्र शामिल किया गया है।

 चीन ने कहा कि वह लापता विमान को लेकर बहुत चिंतित है क्योंकि विमान में सवार 239 लोगों में से 154 उसके नागरिक हैं। हुआंग ने साथ ही विमान में सवार किसी भी चीनी यात्री के विमान को मोडऩे की कोशिश में शामिल होने से इनकार किया। विमान की तलाशी पिछले 11 दिनों से जारी है। हुआंग ने कहा, ‘‘उड़ान संख्या एमएच370 में सवार कोई भी चीन निवासी यात्री किसी अपहरण या आतंकी हमले में शामिल नहीं है।’’ उन्होंने कहा कि चीन निवासी सभी यात्रियों की पृष्ठभूमि की जांच से उनके शामिल होने से जुड़ा कोई सबूत नहीं मिला है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You