ब्वॉयफ्रैंड का किया मर्डर लेकिन अदालत का सजा से इंकार, बड़ी अजीब है वजह

You Are HereInternational
Thursday, May 18, 2017-1:01 PM

लंदनः यूके में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की छात्रा लवीनिया वुडवर्ड्स को मर्डर के आरोप से बरी करने की तैयारी है वो भी सिर्फ इसलिए ताकि उसका हार्ट सर्जन का करियर न खराब हो। लवीनिया ने अपने ब्वॉयफ्रैंड की चाकू घोंपकर जान ले ली थी। केस की शुरुआती सुनवाई में उसने मर्डर के आरोपों को भी स्वीकार कर लिया था। इस मामले की सुनवाई करते हुए जज इयान प्रिंगल ने कहा कि इस अपराध के लिए सामान्य तौर पर जेल की सजा है।

हालांकि, इसके चलते इस एकस्ट्रा ऑर्डिनरी लड़की को मनमाफिक प्रोफेशन का हिस्सा बनने का मौका नहीं मिल पाएगा। ऐसे में उसे सजा नहीं दी जा सकती। बचाव पक्ष के प्रॉसीक्यूटर जेम्स स्टरमैन क्यूसी ने कहा कि उनकी क्लाइंट ने पहले से ही बहुत मुश्किल भरी जिंदगी गुजारी है। वो ड्रग्स एडिक्ट थी और पिछले  ब्वॉयफ्रैंड  के अब्यूज की भी शिकार रह चुकी है। ऐसे में उन्हें राहत मिलनी चाहिए।

24 साल की लवीनिया वुडवर्ड की सोशल मीडिया साइट टिंडर के जरिए ब्वॉयफ्रैंड से मुलाकात हुई थी। ऑक्सफोर्ड के क्रिस्ट चर्च कॉलेज में 30 सिंतबर को ड्रिंक्स और ड्रग्स के डोज के बाद दोनों के बीच झगड़ा हुआ। इसके बाद लवीनिया बेकाबू हो गई और उसने ब्रेड नाइफ (चाकू) सेब्वॉयफ्रैंड की जान ले ली।   इतना ही नहीं, इसके बाद उसने  ब्वॉयफ्रैंड का लैपटॉप, ग्लास और तमाम सामान भी फेंक दिए।  

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You